Breaking News
Home / देश / राजस्थान के ग्रामीण क्षेत्रों में आयोजित किए जा रहे हैं कैंसर जांच शिविर

राजस्थान के ग्रामीण क्षेत्रों में आयोजित किए जा रहे हैं कैंसर जांच शिविर

राजस्थान के ग्रामीण क्षेत्रों में कैंसर की शुरुआती पहचान करने व इसके नियंत्रण के लिए इंटरनेशनल नेटवर्क फॉर कैंसर ट्रीटमेंट एंड रिसर्च (आईएनसीटीआर) इंडिया की ओर से एक पायलट प्रोजेक्ट की पहल की गई है। यह प्रोजेक्ट जिला अस्पतालों – दाना शिवम हार्ट एंड सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल; आर एंड आर मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल; बियानी कॉलेज ऑफ नर्सिंग; इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल टेक्नोलॉजी एंड नर्सिंग एजुकेशन के सहयोग से शुरू किया गया है। बड़ी संख्या में जनजातीय व ग्रामीण आबादी होने के कारण इस प्रोजेक्ट की शुरूआत के लिए राजस्थान को चुना गया है। 
 
इस प्रोजेक्ट का नाम ‘इंटीग्रेटेड अर्बन एंड रूरल कम्यूनिटी बेस्ड इंटरवेंशंस फॉर अर्ली डिटेक्शन, ट्रीटमेंट एंड इन फ्यूचर विल इन्क्लूड पैलिएटिव केयर‘ है। इसकी ओर से राज्य के ग्रामीण व जनजातीय क्षेत्रों में कई स्वास्थ्य जांच शिविर आयोजित किए जा रहे हैं। जिन रोगियों में कैंसर की शुरूआती पहचान होती है, उन्हें आगे के उपचार के लिए एसएमएस अस्पताल भेजा जाता है, जहां उनका निशुल्क उपचार किया जाता है।
 
यह प्रोजेक्ट आईएनसीटीआर इंडिया के प्रबंध निदेशक, डॉ. शिवराज सिंह और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के पूर्व नेशनल प्रेसीडेंट, डॉ. एस. एस. अग्रवाल द्वारा शुरू किया गया है। डॉ. सिंह ने बताया कि राजस्थान के दूरस्थ एवं जनजातीय क्षेत्रों में 3500 महिलाओं की ब्रेस्ट व ओरल कैंसर की जांच की गई है। यह कार्यक्रम कैंसर की रोकथाम व प्रारंभिक निदान पर केंद्रित है। विशेष जोर दिया जा रहा है कि कैंसर के प्रति लोगों की जागरूकता इसकी रोकथाम व शुरुआती निदान, दोनों के लिए सबसे महत्वपूर्ण तत्व है।
 
 
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *