INDvsAUS: जडेजा को चहल द्वारा रिप्लेस करने पर मचा बबाल, गावस्कर ने किया बचाव

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए पहले टी-20 में ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा चोटिल हो गए। जिसके बाद उनके कंकशन सब्स्टिट्यूट के तौर पर स्पिनर युजवेंद्र चहल को लाया गया, जिसे लेकर सवाल उठाये जा रहे हैं। चहल ने पहले टी20 मैच में शानदार गेंदबाजी करते हुए अपने चार ओवर में तीन विकेट चटकाए और मैच में 11 रनों से भारत को आसानी से जीत मिली। जडेजा के स्थान पर चहल को लाने पर मचे बबाल पर सुनील गावस्कर ने प्रतिक्रिया दी हैं।

पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा है कि मैच रेफरी खुद एक पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी थे। वे ऑस्ट्रेलिया के पूर्व खिलाड़ी डेविड बून थे। उनको चहल द्वारा जडेजा को रिप्लेस करने में कोई परेशानी नहीं थी। उन्होंने नॉर्मली कहा कि लाइक फॉर लाइक, इस बात पर बहस कर सकते हैं कि चहल ऑलराउंडर नहीं हैं, लेकिन मेरा मानना हैं कि जो भी बल्लेबाजी करने जाता है, चाहे वो एक रन बनाये या 100, वह मेरे हिसाब से तो ऑलराउंडर ही होता हैं।

गावस्कर ने कहा कि वह कंकशन सब्स्टिट्यूट के फैसले को वह फेवर नहीं करते हैं, उन्होंने कहा कि अगर आप बाउंसर खेलने के लिए इतने अच्छे नहीं है कि गेंद आपके हेलमेट पर आकर लग रही है तो आपको सब्स्टिट्यूट नहीं मिलना चाहिए। बता दे जडेजा को बल्लेबाजी के दौरान एक गेंद सिर पर आकर लगी थी, जिसके बाद वह अनफिट महसूस करने लगे थे और भारत की फील्डिंग के वक्त मैदान छोड़कर चले गए थे। ऐसे में चहल को सब्स्टिट्यूट बनाया गया।

यह भी पढ़े: हार की वजह जानने में जुटी JDU, कार्यकर्ताओं संग मिलकर संगठन मजबूत करेगी
यह भी पढ़े: गांव की आबादी महज 1700, यहां एक सप्ताह में 66 लोग हुए कोरोना पीड़ित