जिस देश में पॉप स्टार रिहाना का जन्म हुआ, उसे भारत ने दान में दी हैं कोरोना वैक्सीन

भारत में कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के समर्थन में मशहूर अमेरिकी पॉप स्टार रिहाना ने एक ट्वीट किया था, जिसके बाद से काफी बबल मचा हुआ हैं। रिहाना ने किसानों से जुड़ी एक खबर को साझा करते हुए ट्वीट किया था ‘हम लोग इस पर बात क्यों नहीं कर रहे हैं।’ जिसके बाद से ही दुनियाभर में कई विदेशी लोग किसानों के समर्थन में ट्वीट करने लगे। हाल ही में एक जांच में पता चला हैं कि किसानों को मिल रहा विदेशी समर्थन सोचा समझा प्रोपगेंडा हैं।

बता दे बारबेडियन गायक-एक्टिविस्ट रॉबिन रिहाना फेंटी जिस देश में पली बढ़ी है उस देश को भारत ने कोरोना वैक्सीन की 100,000 खुराक दान में दी हैं। एक तरफ रिहाना के ट्वीट ने भारत को दुनियाभर में किसान आंदोलन को लेकर केंद्र बनाया हैं। दूसरी तरफ बारबाडोस के प्रधानमंत्री मिया अमोर मोत्ले ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कोरोनावायरस वायरस वैक्सीन की 100,000 खुराक दान में देने के लिए धन्यवाद दिया हैं।

मोत्ले ने 4 फरवरी को पीएम मोदी को लिखे पत्र में कहा ‘मेरी सरकार और लोगों की ओर से, मैं आपको, आपकी सरकार और भारतीय गणतंत्र के लोगों को कोवैक्सीन के दान के लिए आभार व्यक्त करना चाहता हूं।’ इससे पहले मोत्ले ने पीएम मोदी से कैरेबियन राष्ट्र के लिए भारतीय टीको के लिए अनुरोध किया था।

यह भी पढ़े: जांच में हुआ खुलासा, किसान आंदोलन में भारत के खिलाफ चल रहा विदेशी प्रोपगेंडा
यह भी पढ़े: 50 से ऊपर उम्र के लोगों को जल्द मिलेगी वैक्सीन, कुछ ऐसी हैं सरकार की तैयारी