भारत पहली बार थॉमस कप के फ़ाइनल में

भारतीय पुरुष बैडमिंटन टीम ने एचएस प्रणय के निर्णायक मुकाबले में शानदार प्रदर्शन की बदौलत डेनमार्क को शुक्रवार को 3-2 से हराकर पहली बार थॉमस कप के फ़ाइनल में प्रवेश करने के साथ ही इतिहास रच दिया।

भारतीय टीम इससे पहले 1952, 1955 और 1979 में सेमीफाइनल में पहुंची थी। भारत का खिताब के लिए रविवार को होने वाले फ़ाइनल में इंडोनेशिया से मुकाबला होगा। भारतीय टीम 43 साल के अंतराल के बाद सेमीफाइनल में खेल रही थी। प्रणय ने रेस्मस गेमके के खिलाफ पहला गेम हारने के बाद शानदार वापसी करते हुए 13-21, 21-9, 21-12 से जीत हासिल की और भारत को फ़ाइनल में पहुंचा दिया।

यह भी पढ़े: पुतिन पर दबाव के लिए यूक्रेन को और हथियारों की जरूरत : ब्रिटेन