भारत ने परमाणु संपन्न शौर्य मिसाइल का किया परीक्षण, 800 किमी दूर टारगेट होगा तबाह

भारत ने शौर्य मिसाइल के नए वर्जन का सफल परीक्षण किया हैं। शनिवार को ओडिशा के बालासोर से इस मिसाइल को छोड़ा गया। परमाणु क्षमता से लैस यह बैलेस्टिक मिसाइल जमीन से जमीन पर मार कर देने की क्षमता रखती हैं। 800 किलोमीटर दूर तक टारगेट को तबाह करने में सक्षम है यह मिसाइल। यह परीक्षण भारत के मिसाइल सिस्टम को और मजबूत करेगा। चीन से चल रहे तनाव के बीच भारत का यह मिसाइल परीक्षण दुश्मन को एक संकेत मात्र है।

मौजूदा मिसाइलों के मुकाबले यह हल्का है और इस्तेमाल भी आसान है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक यह मिसाइल टारगेट की तरफ बढ़ते हुए अंतिम चरण में हाइपरसोनिक स्पीड हासिल कर लेती है। यह परीक्षण पीएम मोदी का स्ट्रैटिजिक मिसाइल के फील्ड में देश को पूर्ण आत्मनिर्भर बनाने के प्रयासों में से एक है। इसी बीच भारत ने ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का भी सफल परीक्षण किया है, जो 400 किमी दूर तक के टारगेट को हिट करने में सक्षम है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे शौर्य मिसाइल का पहला परीक्षण 2008 में ओडिशा के चांदीपुर समेकित परीक्षण रेंज से किया गया था। इसके बाद सितंबर 2011 में इसका दूसरा परीक्षण किया गया था। पहले इसकी क्षमता 750 किलोमीटर दूर तक हथियार ले जाने की थी।

यह भी पढ़े: कल्पना चावला के नाम पर रखे गए सिग्नस स्पेसक्राफ्ट को NASA ने किया लॉन्च
यह भी पढ़े: यूपीए सरकार होती तो 6 साल का काम 26 साल में पूरा होता: PM मोदी