भारतीय तेज गेंदबाज ने 7 साल के बैन से वापस आते ही किया दावा कहा- खेल सकता हूँ 2023 विश्वकप

भारत के लिए 28 साल की उम्र में खेलने की शुरुआत करने वाले भारतीय तेज गेंदबाज शांताकुमारन श्रीसंत जो कि भारत के लिए कई सारे मैचेज खेलने के बाद आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग में लगे आरोपों के कारण बीसीसीआई के द्वारा आजीवन प्रतिबंधित किए गये थे।

इसके बाद कोट के कई चक्कर लगाने के बाद  बीसीसीआई  ने उनके आजीवन प्रतिबंध को 7 साल का प्रतिबंध  करते हुए  इन्हें प्रतिबंधित किया था । इसी रियायत के आधार पर आईपीएल की 7 साल बैन जो कि सितंबर 2020 में खत्म हो रही है के बाद वह वापसी करने करने में लगे हैं ।

अभी हाल ही में केरल की रणजी टीम में उनके चयन से उनकी वापसी होने जा रही है । अब वह 37 साल के हैं और डेक्कन को  दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि –  2023 के होने वाले भारत की मेजबानी में विश्व कप में वह भारत की ओर से खेल सकते हैं ।

बताते चले की भारत के श्रीसंत ने अब तक 2 विश्वकप खेले हैं और दोनों ही विश्वकप में वह भारतीय विजेता टीम का हिस्सा रहे हैं जिसमें से 2007 का T20 विश्व कप और 2011 का वनडे विश्वकप शामिल है ।

साथ ही उन्होंने भारत की ओर से” श्रीसंत ने देश के लिए 27 टेस्ट, 53 वनडे और 10 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं।

2023 में होने वाले विश्व कप में उनकी खेलने को लेकर बीसीसीआई की ओर से अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

परंतु एक समय भारत के सबसे प्रतिभाशाली तेज गेंदबाज माने जाने वाले श्रीसंत का यह बयान जिसमें वह बकायदा दावा कर रहे हैं कि वह अगला विश्वकप जरूर खेलेंगे, अब देखना यह होगा कि बीसीसीआई क्या कहती है।