भारतीय रेलवे ने दिया चीन को झटका, रद्द किया 44 वंदे भारत ट्रेन बनाने का ठेका

सीमा पर भारत के साथ गतिरोध बनाये रखना चीन को भारी पड़ रहा है। भारत लगातार अपने पड़ोसी को आर्थिक मोर्चे पर टारगेट कर रहा है। कई चीनी ठेके और उसकी वस्तुओं पर प्रतिबंध के बाद भारत सरकार ने चीन को एक और बड़ा झटका दिया है।

दरअसल, भारतीय रेलवे ने 44 सेमी हाईस्पीड वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन बनाने का चीन को पूर्व में दिया गया ठेका रद्द कर दिया है। बता दे इस ठेके के लिए निविदा पिछले साल ही जारी हुआ था। बीते महीने जब टेंडर खोले गए तो सिर्फ चीन के साथ संयुक्त उद्यम वाली जेवी कंपनी को ही ठेका मिला था।

इसमें सीआरआरसी पॉयनियर इलेक्ट्रिक इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ही छह आवेदन करने वालों में योग्य पाई गई थी। जिसके तहत कंपनी को 44 वंदे भारत ट्रेन और हरेक में इसके 16 कोचों को बनाने में लगने वाले इलेक्ट्रिकल उपकरणों और अन्य जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति करनी थी।

अब ठेका रद्द होने के बाद एक हफ्ते में नया ठेका जारी किया जाएगा। अभी तक रेलवे ने पुराने ठेके को रद्द करने की वह नहीं बताई है। बता दे पूर्वी लद्दाख में सीमा पर चल रहे तनाव को कम करने के लिए भारत सर्कार ने चीनी सेना को सख्त लहजे में कहा है कि पीएलए गतिरोध सुलझाने को लेकर गंभीर नहीं है।

यह भी पढ़े: पंजाब के तरनतारन में भारत-पाक सीमा पर घुसपैठ कर रहे पांच को BSF ने किया ढ़ेर
यह भी पढ़े: POK में एक्टिविस्ट ने उतार फेंका पाकिस्तान का झंडा, अब मिल रही धमकियां