पाकिस्तान में महंगाई चरम पर, 60 रुपए किलो मिल रहा गेहूं

हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान कि हालत अभी बहुत खराब हो गयी है। वहाँ महंगाई से आम जनता पुरी तरह से त्रस्त है। अभी के समय मे पड़ोसी पाकिस्तान अपने खाने के लिए गेहूं का इंतजाम भी नहीं कर पा रहा है। पाकिस्तान की आवाम अब भूख से बिलबिला रही है। पड़ोसी देश में इन दिनों खाने-पीने की चीजें हद से ज्यादा महंगी हो गई हैं। यहाँ गेहूँ की कीमत रेकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है। पाकिस्तान में एक किलो गेहूं खरीदने के लिए लोगों को 60 रुपए तक चुकाने पड़ रहे हैं। पाकिस्तान में 40 किलो के गेहूं की बोरी इस समय 2400 रुपए में मिल रही है। ऐसा नहीं कि इस समय पाकिस्तान में सिर्फ गेहूं महंगा हुआ है, बल्कि टमाटर, आलू, ब्याज, चीनी जैसी आवश्यक वस्तुओं के दाम भी तेजी से बढ़ रहे हैं।

पिछले साल दिसंबर में भी गेहूं की कीमत इसी तरह काफी तेजी से बढ़ी थी, तब इसकी कीमत 50 रुपए प्रति किग्रा तक हुई थी। ऑल पाकिस्तान फ्लोर एसोसिएशन ने केंद्र और राज्य सरकारों से गेहूं का खरीद मूल्य तुरंत निर्धारित करने की मांग की है। फ्लोर एसोसिएशन का कहना है कि देश में गेहूं की कमी मिल मालिकों की वजह से नहीं बल्कि प्रभावशाली लोगों की वजह से है। इसको लेकर सरकार ने रूस से 200,000 मीट्रिक टन गेहूं आयात को मंजूरी दी है, जो इस महीने पहुंच सकता है।

Loading...