3 मिनट में निवेशकों ने पतंजलि आयुर्वेद को दिए 250 करोड़ रूपये

बाबा रामदेव के नेतृत्व वाले पतंजलि आयुर्वेद ने ₹250 करोड़ रूपये के नॉन-कन्वर्टिबल NCD जारी किए थे। जिसमें कंपनी को यह डिवेंचर पूर्ण रूप से सब्सक्राइब करवाना था । इसे निवेशकों ने हाथों हाथ लिया और मात्र 3 मिनट में ही या पूरा हो गया।

विदित जानकारी है कि पतंजलि आयुर्वेद के हरिद्वार मुख्यालय वाली कंपनी ने पहली बार पूंजी जुटाने के लिए बॉन्ड बाजार का सहारा लिया है । बाबा रामदेव के नेतृत्व वाली पतंजलि आयुर्वेद ने मार्केट के निवेशकों से ₹250 की मांग की थी।

पतंजलि आयुर्वेद ने असल में ₹250 के नोट कन्वर्टिबल डिबेंचर इनसीडियस जारी किए थे । इसे निवेशकों ने हाथों-हाथ लिया और यह डिवेंचर पूर्ण रूप से सब्सक्राइब हो गया।

गौरतलब है की हाल ही में रिलायंस इंडस्ट्रीज, टाटा स्टील, एचडीएफसी बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा ,जैसी कई कंपनियों ने बाजार से पैसा जुटाया है।

👉 क्या होता है नॉन कन्वर्टिबल डिबेंचर NCDs..?

ऐसी वित्तीय साधन है जो कंपनियां पूंजी जुटाने जारी करती है। इसकी अवधि फिक्स होती है । इसलिए ऐसा होता है बाहर निकलना आसान नहीं होता । इस पर ब्याज भी 10 हिंदी या उससे ज्यादा मिलता है ।नन कन्वर्टिबल का मतलब यह है कि इस डिवेंचर को शेयरों में नहीं बदला जा सकता ।

पतंजलि के प्रवक्ता एसके तिजारावाला ने न्यूज़ एजेंसी पीटीआई को बताया कि करोना महामारी के बीच आयुर्वेद आधारित उत्पादों की बिक्री में 3 गुना बढ़त हुई है। लेकिन करोना की वजह से मैन्युफैक्चरिंग से लेकर मार्केट तक के सप्लाई चैन में अवरोध आए हैं।

Loading...