ठंड में कॉफी है ज्यादा फायदेमंद या अदरक की चाय?

इस सर्द मौसम के दौरान, हम सभी कॉफी या चाय पीते हैं। लोग ऐसा इसलिए करते हैं क्योंकि इससे शरीर अंदर से गर्म रहता है और ठंड कम लगती है। कई तर्क हैं जो कॉफी और अदरक वाली चाय की तुलना करते हैं। लेकिन, बहस अभी भी है कि कौन बेहतर है। तो यदि आपको अदरक वाली चाय या कॉफी पीने की आदत है तो आपको सबसे पहले ये बात जाननी होगी कि ठंड में आपके लिए दोनों में कौन ज्यादा फायदेमंद है और कैसे। अदरक वाली चाय और कॉफी दोनों में ही अपने अलग-अलग गुण होते हैं जो आपको ना सिर्फ ठंड से बचाते हैं बल्कि कई स्वास्थ्य समस्याओं से भी दूर रखते हैं। आइए जानते हैं ठंडे में क्या बेहतर है, चाय या कॉफी-

सर्दियों के लिए अदरक वाली चाय: TOI ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि अदरक वाली चाय एंटीऑक्सीडेंट का स्त्रोत होती है और कुछ प्रकार के कैंसर और हृदय रोगों को रोकने में बहुत फायदेमंद भी होती है। जो लोग ब्लैक या ग्रीन-टी पीते हैं, उनका इम्यून सिस्टम उन लोगों की तुलना में अधिक मजबूत होता है जो चाय बिल्कुल चाय नहीं पीते हैं। चाय पीने हड्डियों में कमी नहीं आती है और बोन डेंसिटी भी बढ़ जाता है।
कई अध्ययनों से पता चला है कि चाय का नियमित सेवन एंटी-एजिंग गुण प्रदान करता है। यह भी कहा जाता है कि चाय, अन्य कैफीन ड्रिंक्स की तरह दांतों को नुकसान नहीं पहुंचाता है और कैविटी होने से भी रोकता है। हर्बल टी आपके पाचन तंत्र को शांत कर सकता है और मिचली और ऐंठन को भी कम कर सकता है।

सर्दियों के लिए कॉफ़ी: कॉफी आपके दिन की शुरुआत करने के लिए सबसे अच्छा कैफीन है। इसके साथ ही विभिन्न स्वास्थ्य लाभ भी हैं। यह साबित हो गया है कि नियमित रूप से कॉफी पीने वालों को अन्य लोगों की तुलना में टाइप 2 डायबिटीज होने का खतरा कम हो जाता है। कॉफी में कई मिनरल्स और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो ब्लड शुगर के स्तर को विनियमित करने में मदद करते हैं।
एक नए अध्ययन में पता चला है कि जो लोग प्रति दिन 3-4 कप कॉफी पीते हैं उनमें किसी बीमारी के कारण मरने की संभावना कम होती है क्योंकि कॉफी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है, जो बदले में गंभीर बीमारियों से बचाता है।

कौन ज्यादा फायदेमंद होता है- चाय और कॉफी दोनों के अपने-अपने स्वास्थ्य लाभ होते हैं। लेकिन ठंड में चाय पीना अधिक फायदेमंद साबित हो सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि चाय में कैफीन की मात्रा कॉफी की तुलना में बहुत कम होती है। बहुत अधिक कैफीन चिंता, डिहाईड्रेशन, अनिद्रा, पाचन संबंधित समस्या और हृदय गति में वृद्धि का कारण बन सकता है। तो इसलिए इन सभी समस्याओं से बचने के लिए आप कॉफी के बजाय चाय पिएं।

यह भी पढे –

डायबिटीज के मरीजों के लिए काली मिर्च होती है लाभकारी, और भी हैं कई लाभ