Breaking News
Home / ज़रा हटके / जानिए भगवान श्रीकृष्ण और नंबर 786 का रिश्ता !

जानिए भगवान श्रीकृष्ण और नंबर 786 का रिश्ता !

आमतौर पर मुस्लिम धर्म में 786 नंबर को बिस्मिल्लाह के रूप में माना जाता है. लोग 786 का नोट रखते हैं और अपनी गाड़ी तक का नंबर 786 रखते हैं. कहते हैं कि अरबी या उर्दू में ‘बिस्मिलाह-उर रहमान-उर रहीम’ को लिखने पर उसका योग 786 आता है. यही वजह है कि इस नंबर को इस्लाम सबसे पाक मानता है. लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि इस नंबर का संबंध भगवान श्रीकृष्ण से भी है, वो कैसे?

श्रीकृष्ण और 786 का संबंध

हालहि में रिसर्चर राफेल पताई ने एक किताब लिखी है जिसका नाम है द जीविस माइंड. इस किताब में 786 नंबर का उल्लेख किया गया है और अगर हिंदी में 786 (७८६) नंबर की आकृति पर गौर किया जाए तो यह बिल्कुल संस्कृत में लिखा हुआ ‘ॐ’ दिखाई देगी. वहीं दूसरी तरफ पौराणिक काल के अनुसार, श्रीकृष्ण सात छिद्रों वाली बांसुरी को अपने हाथों की 3-3 यानि 6 अंगुलियों से बजाया करते थे और वे देवकी के 8वें पुत्र थे. अगर आप तीनों अंकों को जोड़ें ते कुल योग 786 ही बनता है.

Loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *