इंसान के अंदर ही होता है उसका सबसे बड़ा दुश्मन, जानिए दूर करने के टिप्स

सामान्यतौर पर अगर किसी से भी पूछा जाए कि आपका दुश्मन कौन है तो वो किसी न किसी को वो अपना दुश्मन मानता ही है । लेकिन देखा जाए तो इंसान का सबसे बड़ा दुश्मन कोई और नही बल्कि वो स्वयं ही होता है । जी हां, इंसान खुद का दुश्मन खुद होता है। जब हमें गुस्सा आता है तो हम कुछ भी नहीं देखते है , कुछ नहीं सोच पाते है , गुस्सें में इंसान के सोचने समझने की शक्ति ही पूरी तरह खत्म हो जाती है इसलिए इंसान का सबसे बड़ा दुश्मन वो खुद ही होता है । चलिए आपको बताते है किस तरह गुस्सा आपकी सेहत पर बहुत बुरा प्रभाव डालता है।

गुस्सा हमारी सेहत को बहुत ज्यादा प्रभावित करता है। वैसे तो गुस्सा आना इंसान की प्रकृति होती है। लेकिन अगर आप स्वस्थ रहना चाहते है तो इसके लिए मन को शांत रखना जरूरी होता है।

गुस्सा, यह व्यक्ति की एक ऐसी प्रकृति है जो परिस्थितियों के अनुसार मस्तिष्क में उत्पन्न होती है। गुस्से से किसी को नुकसान हो या न हो लेकिन गुस्सा करने वाले के लिए बहुत ही खतरनाक होता है। गुस्सा करने से से कई बार रिश्ते भी टूट जाते हैं। अगर आपको छोटी-छोटी बातों पर भी गुस्सा आ जाता है तो इस पर काबू पाना शुरू कर दे वरना ये आपकी जिंदगी में जहर घोल देगा।

गुस्से का शरीर पर बुरा प्रभाव- वैज्ञानिकों द्वारा किए गए अध्ययनों के अनुसा गुस्सा आने पर मस्तिष्क में ऐसे रासायनिक तत्व बनते हैं, जिनका शरीर और मन पर बुरा प्रभाव पड़ता है। आंखें लाल हो जाती हैं तथा दिल में जलन हो सकती है। ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है। इसके साथ ही साथ सोच-समझने की शक्ति कमजोर हो जाती है। गुस्सा करने से तनाव बढ़ता है। गुस्सा करने से पाचन तंत्र कमजोर होता है, जिससे एसिडिटी, कब्ज, भूख नहीं लगना जैसे रोग हो सकते हैं। गुस्से से नींद भी नहीं आती, जिससे पूरे स्वास्थ्य पर बुरा असर होता है।