जहां फेंके नीतीश पर पत्थर, वहां JDU और जहां तेजस्वी पर चप्पल, वहां कांग्रेस जीती

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के परिणाम सामने आ चुके हैं। एक बार फिर से नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए को जनता ने स्पष्ट बहुमत दिया हैं। अपना आखिरी चुनाव बता चुके नीतीश कुमार समेत प्रदेश की सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी राजद के मुख्यमंत्री उम्मीदवार तेजस्वी यादव को चुनाव प्रचार में जनता के रोष का सामना करना पड़ा था। नीतीश कुमार की एक सभा में पत्थर और प्याज मंच पर फेंके गए, वहीं तेजस्वी पर प्रचार के दौरान चप्पल फेंकी गई थी।

बात करें हरलाखी सीट की तो, यहां नीतीश कुमार ने अपनी पार्टी के सुधांशु शेखर के लिए प्रचार किया। इस सीट पर मुकाबला सीपीआई से राम नरेश पांडेय और जेडीयू के सुधांशु शेखर के बीच था। इसी सीट पर एक सभा में नीतीश कुमार ने लोगों से पत्थर और प्याज फेंकने वालों को रोकने से मना किया था और कहा था ‘फेंको, फेंको और फेंके’। यहां सीपीआई से राम नरेश पांडेय 42800 वोट के साथ दुसरे पर और जेडीयू के सुधांशु 60393 वोट लेकर जीत गए।

वहीं, औरंगाबाद के कुटुम्बा विधानसभा क्षेत्र के बभंडी में तेजस्वी यादव की रैली में चप्पल फेंकी गई। उन पर एक के बाद एक दो चप्पलें फेंकी गई। तेजस्वी यादव ने इसे कोई तवज्जो नहीं दी और भाषण में भी इस पर कुछ नहीं कहा। इस सीट से कांग्रेस प्रत्याशी को जीत मिली। इस सीट से कांग्रेस प्रत्याशी राजेश कुमार को 50822 मत मिले। उन्हें निकटम प्रतिद्वंदी HAM के स्वर्ण भुईंया से चुनाव में मात मिली, जिन्हें कुल 34169 मत मिले।

यह भी पढ़े: मेथी है हमारे लिए बहुत लाभकारी, जानिएं कैसे
यह भी पढ़े: लिवर को रखें स्वस्थ, जानिए कैसे