Johnson & Johnson ने रोका कोरोना वैक्सीन का ट्रायल, जानें क्या है वजह

कोरोना महामारी से निपटने के लिए दुनियाभर में कोरोना वैक्सीन बनाने की कवायद जारी हैं। इसी बीच ‘जॉनसन एंड जॉनसन’ ने अपनी कोरोना वैक्सीन के ट्रायल पर रोक लगा दी है। कंपनी ने यह फैसला इसलिए लिया हैं क्योंकि वैक्सीन के ट्रायल में हिस्सा ले रहे एक शख्स की अचानक से तबियत बिगड़ गई थी। एक रिपोर्ट की माने तो यह रोक फिलहाल कुछ समय के लिए हैं। ऐसे में यह नहीं कहा जा सकता कि कंपनी इस परीक्षण को दोबारा शुरू नहीं करेगी।

इस महीने की शुरुआत में जॉनसन एंड जॉनसन अमेरिका में वैक्सीन बनाने वालों की शॉर्ट लिस्ट में शामिल हुआ है। कंपनी की ‘एडी26-सीओवी2-एस’ वैक्सीन अमेरिका में चौथी ऐसी वैक्सीन है जो अपने अंतिम चरण में हैं। इससे पहले जब कंपनी ने पिछली बार वैक्सीन के संदर्भ में रिपोर्ट जारी की थी तो कहा था कि अब तक के परीक्षण परिणामों के आधार पर कोई गंभीर दुष्प्रभाव सामने नहीं आए। वैक्सीन ने वायरस के खिलाफ मजबूत प्रतिरक्षा बनाई हैं।

हाल ही में एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के ट्रायल पर भी रोक लगाई गई थी। जिसके बाद अब जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन के ट्रायल पर रोक बड़ा झटका हैं। वहीं, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन का ट्रायल ब्रिटेन और भारत में दोबारा शुरू हो चुका हैं, लेकिन अमेरिका में इस पर अभी भी रोक है।

यह भी पढ़े: उत्तर प्रदेश: तीन तलाक पीड़ित महिलाओं को सालाना ₹6 हजार देगी योगी सरकार
यह भी पढ़े: अमेरिका: डोनाल्ड ट्रंप की कोरोना रिपोर्ट आई नेगेटिव, फिर शुरू की चुनावी रैलियां

Loading...