Breaking News
Home / जोक्स / हम साड़ी क्यों खरीदें, मोहल्ला ही बदल लेते हैं

हम साड़ी क्यों खरीदें, मोहल्ला ही बदल लेते हैं

एक अफसर ने जब अपनी पत्नी को कमरे में आते देखा तो बहुत ही सख्त लहजे में अपनी खूबसूरत स्टेनों से बोला – अगर दफ्तर में कुर्सी- मेजों की कमी हैं तो इसका मतलब यह नहीं कि तुम मेरी गोद में चढ़कर बैंठ जाओ |

???????????????????

Loading...

पति ( पत्नी से ) – बात अविश्वासनीय सही है – सुना तुमने जो आदमी जितना अधिक बेवकूफ होता हैं , उसे उतनी ही अधिक सुंदर पत्नी मिलती हैं |

पत्नी ( खुश होकर ) – बस-बस , रहने भी दो मेरी तारीफ करने के अलावा कभी कोई और भी काम कर लिया करो |

???????????????????

पत्नी- सुनिए जी, मुझे एक नई साड़ी दिला दीजिए न प्लीज |

पति – लेकिन तुम्हारी अलमारी तो साड़ियों से भरी पड़ी हैं, फिर नई क्यों ?

पत्नी- वे सभी साड़ियां तो मोहल्ले वालों ने देख ली हैं |

पति – हम साड़ी क्यों खरीदें, मोहल्ला ही बदल लेते हैं |

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *