जोर्गे ओर्टिज के शानदार शॉट ने चेन्नइयन की डिफेंस को भेदा

चेन्नइयन एफसी जीत के लिए जरूरत से ज्यादा डिफेंसिव रहने की रणनीति नुकसानदायक रही। इस कारण जोर्गे ओर्टिज के एकमात्र गोल से एफसी गोवा लगातार दो हार के बाद जीत हासिल करने में सफल रही। शनिवार रात को बैम्बोलिन स्थित जीएमसी एथलेटिक स्टेडियम में खेले गए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) 2021-22 के इस लीग मुकाबले में एफसी गोवा ने चेन्नइयन एफसी को 1-0 से हराया। गोवा के डिफेंडर अनवर अली को शानदार डिफेंडिंग के लिए हीरो ऑफ द मैच के अवार्ड से नवाजा गया। इस जीत से गोवा नौवें से छलांग लगाकर आठवें स्थान पर पहुंच गई है।

कोच डेरिक परेरा की टीम 10 मैचों में तीन जीत और तीन ड्रा से 12 अंक जुटा चुकी है। वहीं, इस हार से चेन्नयन का शीर्ष चार में पहुंचने का सपना आज पूरा नहीं हो सका है। कोच बोजिदार बांदोविक की पूर्व चैम्पियन टीम 10 मैचों में 14 अंक जुटाकर तालिका में छठे स्थान पर बरकरार हैं। चेन्नइयन के खाते में चार जीत औऱ दो ड्रा हैं। इस मैच में चेन्नइयन इतना ज्यादा रक्षात्मक फुटबॉल खेली कि उसकी ओर से केवल एक बार ही सटीक निशाना लगाया जा सका, जिसे मिरलान मुर्जायेव ने दूसरे हाफ में राइट फुटर से लिया था लेकिन उसे गोलकीपर नवीन कुमार ने आसानी से रोक दिया।

82वें मिनट में मैच का पहला गोल आया,जब जोर्गे ओर्टिज ने बेहतरीन लेफ्ट फुटर शॉट लगाकर एफसी गोवा को 1-0 से आगे कर दिया। बॉक्स के बाहर से स्पेनिश फॉरवर्ड के लगाए शॉट पर चकमा खाकर चेन्नइयन के गोलकीपर देबजीत मजूमदार गेंद को अपने ऊपर से गोलपोस्ट के अंदर जाते हुए देखने के सिवाय कुछ नहीं कर सके।

पहला हाफ गोलरहित रहा, क्योंकि दोनों ही टीमों की डिफेंस का खेल में दबदबा रहा, क्योंकि किसी ने भी आक्रामकता नहीं दिखाई। हमलों के मामले में एफसी गोवा कुछ बेहतर रही। मिडफील्डर ग्लेन मार्टिन और स्पेनिश मिडफील्डर एल्बर्टो नोगुएरा के शॉट्स ने चेन्नइयन के गोलकीपर देबजीत मजूमदार को बचाव करने पर मजबूर किया, जबकि गोवा के गोलकीपर नवीन कुमार की परीक्षा चेन्नइयन के फॉरवर्ड नहीं ले सके।

गोवा की टीम का नियंत्रण 65 फीसदी गेंद पर रहा और वो बार-बार चेन्नइयन के बॉक्स के अंदर घुसने का प्रयास करती नजर आई। गोवा की ओर से कुल आठ शॉट लगाए गए, जिसमें से दो-तीन लक्ष्य पर थे जबकि चेन्नइयन की ओर से लगे दो शॉट दिशाहीन रहे। इस तरह हाफटाइम तक स्कोर 0-0 था।

यह भी पढ़े: लाथम दोहरे शतक के करीब, न्यूज़ीलैंड का विशाल स्कोर