अग्निपथ योजना से समर्थन में आईं कंगना रनौत, इंस्टाग्राम पर लिखी एक स्टोरी, इसे बताया गुरुकुल जैसा सिस्टम

देश भर में अग्निपथ योजना का व्यापक विरोध हो रहा है। इस बीच बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने सेना में भर्ती की इस नई योजना के समर्थन में आ गई है। उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पेज पर एक कहानी लिखी। अग्निपथ योजना की तुलना पारंपरिक गुरुकुल प्रणालियों की चयन प्रक्रिया से की।

देश भर में व्यापक विरोध प्रदर्शनों के बीच बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने शनिवार को सेना में भर्ती के लिए नई अग्निपथ योजना के समर्थन में आवाज उठाई और उन्होंने सरकार के कदम की सराहना की। ‘धाकड़’ अभिनेत्री ने आज अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक कहानी पोस्ट की और लिखा:- इजराइल जैसे कई देशों ने अपने सभी युवाओं के लिए आर्मी ट्रेनिंग अनिवार्य कर दिया है, हर कोई कुछ साल के लिए सेना के अनुशासन, राष्ट्रवाद के लिए देता है। जीवन मूल्यों को सीखने के लिए देता है। और इसका अर्थ है अपने देश की सीमाओं की रक्षा करना। अग्निपथ स्कीम का अर्थ केवल करियर बनाने, रोजगार पाने या पैसा कमाने से कहीं अधिक गहरा है।

कंगना, जो बीजेपी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की खुलकर समर्थन करती हैं। उन्होंने अग्निपथ योजना की तुलना पारंपरिक गुरुकुल प्रणालियों की चयन प्रक्रिया से की। साथ ही कंगना ने कहा कि पुराने दिनों में हर कोई गुरुकुल जाता था, करीब-करीब इसी तरह कि उन्हें ऐसा करने के लिए पैसे मिलते हैं, ड्रग्स में बर्बाद हो रहे युवाओं का चौंकाने वाला प्रतिशत और पबजी में इन सुधारों की जरूरत है। इन कदमों के लिए सरकार की सराहना करती हैं।

केंद्र सरकार ने 14 जून को सशस्त्र बलों की तीन सेनाओं में शॉर्ट टर्म के आधार पर भर्ती की नई अग्निपथ योजना शुरू की। इस योजना के खिलाफ देश भर में उग्र विरोध हुआ। भारतीय सेना के इच्छुक इस योजना के खिलाफ कई राज्यों में विरोध प्रदर्शन कर रहे थे, जिसमें सशस्त्र बलों में चार साल की अवधि के लिए कर्मियों को काम पर रखने का प्रस्ताव है। इसके बाद उनमें से 75 प्रतिशत को बिना कोई पेंशन लाभ के रिटायरमेंट दे दी जाएगी। गौर हो कि कंगना रनौत अगली बार ‘तेजस’ में दिखाई देंगी, जहाँ वह एक भारतीय वायु सेना अधिकारी की भूमिका निभा रही हैं। फिल्म इस साल के अंत में रिलीज होगी।

यह भी पढ़े-

Fatty Liver से पाना चाहते हैं निजात तो डाइट में शामिल करें छाछ, केला और गोभी भी है फायदेमंद- जानिये