कांग्रेस पार्टी में मची उथल-पुथल के बीच कपिल सिब्बल का बड़ा बयान

काँग्रेस पार्टी में इन दिनों बहुत ही उथल-पुथल मची हुई है। इसी उथल-पुथल के बीच काँग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने आज विभिन्न मुद्दों को लेकर अपना पक्ष खुलकर रखा। उन्होंने आज की बातचीत में काँग्रेस पार्टी के अंदर हो रही सभी घटनाओं के कारणों की भी पूरी समीक्षा करने का प्रयास किया।

काँग्रेस छोड़ने के प्रश्न पर उन्होंने कहा, “हम सच्चे कांग्रेसी हैं। मैं अपनी आत्मा बेच कर एक मृत शरीर के भांति अपने जीवन में कभी भी भाजपा में शामिल होने के बारे में नहीं सोचूंगा। हो सकता है कि अगर कांग्रेस नेतृत्व मुझे पार्टी से जाने के लिए कहे, तो मैं पार्टी छोड़ने के बारे में सोच सकता हूं, लेकिन फिर भी बीजेपी में शामिल नहीं होऊंगा।”

जितिन प्रसाद के भाजपा में शामिल होने के बारे में पूछने पर कपिल सिब्बल ने कहा, “जितिन प्रसाद ने जो किया मैं उसके खिलाफ नहीं हूं, क्योंकि इसके पीछे कोई बड़ा कारण जरूर रहा होगा, जिसका खुलासा नहीं किया गया है। लेकिन उनका बीजेपी में शामिल होना एक ऐसी चीज है जिसे मैं नहीं समझ सकता। यह दिखाता है कि हम आया राम गया राम से प्रसाद की राजनीति की ओर बढ़ रहे हैं, जहां प्रसाद मिले, आप उस पार्टी में शामिल हो जाते हैं।”

काँग्रेस पार्टी के अंदर की मूल समस्याओं के प्रश्न पर कपिल सिब्बल ने अपना पक्ष रखते हुए कहा, ”मुझे यकीन है कि नेतृत्व जानता है कि समस्याएं क्या और कहा हैं, और मुझे आशा है कि नेतृत्व सुनता है क्योंकि बिना सुने कुछ भी नहीं रहता है। कोई भी कॉर्पोरेट संरचना बिना सुने जीवित नहीं रह सकती है और ऐसा ही राजनीति में भी होता है।”

अंत में कपिल सिब्बल ने पार्टी को चेताते हुए कहा कि अगर नहीं माने तो वे बुरे दिनों में फंस जाएंगे।

यह भी पढ़ें:

अनिल अंबानी को SBI ने दी बड़ी राहत