मधुमेह में लाभकारी है कसूरी मेथी

हमारी सेहत के लिए दवाईयों से ज्यादा घरों में पाई जाने वाली औषधियां व अन्य चीजें ज्यादा फायदेमंद होती है। जिनके उपयोग से हमारी सेहत पर बहुत ही अच्छा प्रभाव पड़ता है। आज हम आपको बताने जा रहे है घर में उपयोग की जाने वाली कसूरी मेथी के बारे में, जो आपकी सेहत के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होता है।

भारत में कसूरी मेथी बहुत ही ज्यादा लोकप्रिय मसाला है, जिसका प्रयोग लगभग हर घर में किया जाता है। पेट की समस्या से लेकर ब्लड ग्लूकोज को नियंत्रित करने वाले गुण के अलावा, इसमें बालों और त्वचा को निखारने के भी सारे गुण मौजूद होते हैं। चलिए आपको बताते है कसूरी मेथी के फायदेमंद..

बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मददगार- अगर आपके शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बहुत अधिक अधिक हो गई तो समस्या गंभीर हो सकती है। शरीर से बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए कसूरी मेथी बहुत ही लाभकारी होता है। इसके लिए पानी में मेथी की पत्तियों को डालकर पूरी रात के लिए छोड़ दीजिए और अगले दिन पानी को छानकर पीजिए। इससे शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा खूब बढ़ेगी।

त्वचा के लिए लाभकारी- त्वचा में मौजूद दाग-धब्बों को दूर करने के लिए कसूरी मेथी लाभकारी होता है । अगर चेहरे पर कोई निशान मौजूद है और वह नहीं जा रहा है, तो मेथी की पत्तियों को लगाने से निशान मिट जाएंगे। मेथी को पिस ले और इसमें पानी मिला ले। इसका पेस्ट तैयार करके चेहरे पर लगाएं। कुछ मिनट बाद मुंह धो लें। इससे चेहरा बेदाग हो जाएगा।

पेट की समस्या करें दूर- आज के समय में हम जो खाद्यपदार्थ खाते है वो हमारी सेहत के लिए अच्छा नहीं होता है जिससे हमारे पेट में गैस की समस्या हो जाती है। ऐसे में मेथी की पत्तियां लीवर को मजबूत बनाकर पेट की दूसरी समस्याओं को भी दूर करती हैं। इसकी पत्तियों के अलावा बीज को पीसकर पाउडर बनाकर भी प्रयोग में ला सकते हैं। पेट की समस्या होने पर पत्तियों को सुखाकर पीस लें और इसमें नींबू की कुछ बूंदें मिक्स करें। इसके बाद इसे उबले हुए पानी के साथ लें।

पेचिश और डायरिया की समस्या- कसूरी मेथी का उपयोग पेचिश और डायरिया की समस्या को दूर करने में भी किया जाता है । कसूरी मेथी इन समस्याओं में भी लाभकारी होता है।

मधुमेह में लाभकारी – मधुमेह होने के बाद हमें हमारी सेहत का बहुत ही अधिक ध्यान रखना पड़ता है क्योकि मधुमेह होने के बाद शरीर में ब्लड शुगर का स्तर बढ़ जाता है। इसे नियंत्रित करने के लिए मेथी का प्रयोग करना अच्छा होता है। इसमें एंटी-डायबिटिक गुण होते हैं, जो ब्लड ग्लूकोज के स्तर को नियंत्रित करते हैं। यह टाइप-2 डायबिटीज होने की संभावना को भी कम करता है।

यह भी पढ़ें:-

गुस्सा हमारी सेहत को बहुत ज्यादा प्रभावित करता है आइये जाने यहाँ