सनस्‍क्रीन का इस्तेमाल करते समय इन बातों का रखे खास ध्यान

सामान्यतः घर से बाहर जाते समय लोग सनस्‍क्रीन लगा ही लेते हैं ताकि वह धूप की U.V Rays से पूरी तरह बच सकें। मगर धूप से बचाने वाली कुछ सनस्‍क्रीन भी आपके लिए वेहद खतरनाक हो सकती हैं।

जी हां, इसमें कई ऐसे रसायन पाए जाते हैं जो त्‍वचा पर जलन, रैश, खुजली यहां तक कि ब्रेस्‍ट कैंसर जैसी गंभीर समस्या को पैदा कर सकते हैं।

  • त्‍वचा में जलन

सनस्‍क्रीन को लगाने से आंखों और चेहरे पर बहुत गंभीर जलन महसूस होने लगती है। अगर आपको यह जलन बहुत ज्‍यदा महसूस हो तो सनस्‍क्रीन को तुरंत पानी से धो लें और फिर गुलाबजल की मदद से अपनी त्वचा की जलन को पूरी तरह शांत करें।

  • स्‍किन एलर्जी

कई सनस्‍क्रीनों में बहुतायत मात्रा में कैमिकल्‍स पाए जाते हैं, जो कि शरीर में एलर्जी, खुजली और सूजन पैदा कर सकते हैं। इसलिए हमेशा हाईपोएलर्जेनिक लिखी हुई सनस्‍क्रीन ही खरीदनी चाहिए। एक्‍सपर्ट्स की मानें तो जिस सनस्‍क्रीन में जिंक ऑक्‍साइड होता है वह स्किन के लिए बहुत ही अच्‍छी होती है।

यह भी पढ़ें:

क्या मैस्टरबेशन या सम्बन्ध बनाने के दौरान स्पर्म निकलने से शरीर की इम्युुनिटी पर असर पड़ता है? जानिए सही जवाब

 पाचन संबंधी हर समस्या होगी छूमंतर, अपनाएं ये आयुर्वेदिक तरीके