तौलिये के इस्तेमाल के दौरान रखें इन बातों का खास ध्यान

तौलिया हमारी रोजमर्रा की जिन्दगी में काम आता है। कभी आप हाथ पोंछने के लिए इसका इस्तेमाल करते हैं तो कभी बच्चों को नहाने के बाद इसी से लपेटते हैं। अपने बदन को पोंछने के लिए भी इसका प्रयोग किया जाता है।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह सिर्फ आपके बदन से पानी ही नहीं सोखता, बल्कि अनजाने ही आपको बहुत सी बीमारियां सौगात में दे देता है। इसलिए यह बेहद आवश्यक है कि आप इसके इस्तेमाल के दौरान कुछ बातों का विशेष रूप से ध्यान दें। तो चलिए जानते हैं उन बातों के बारे में-

  • कुछ लोगों की यह आदत होती है कि वे टाॅवल को महीनों तक नहीं धोते, जिससे उसमें छोटे-छोटे बैक्टीरिया पनपने लगते हैं। इसलिए तौलिए को रोज या कम से कम एक दिन छोड़कर जरूर धुलें।
  • टॉवेल के दोबारा इस्तेमाल से पहले इसे अच्छी तरह धूप में सुखा लें। ऐसा करने से तौलिए में मौजूद कई बैक्टीरिया मर जाते हैं या निष्क्रिय हो जाते हैं, जिससे आपके बीमार होने की संभावना काफी कम हो जाती है।
  • अगर आप चाहते हैं कि आपको किसी तरह का संक्रमण न हो तो आप अपने टॉवेल को किसी और को इस्तेमाल करने के लिए न दें और न ही किसी और का टॉवेल इस्तेमाल करें।
  • नहाने के बाद शरीर पोंछने, टॉयलेट के बाद हाथ पोंछने, किचन में पानी पोंछने और धुलने के बाद मुंह पोंछने के लिए अलग-अलग टॉवेल का इस्तेमाल करें।
  • टॉवेल को नहाने के बाद कभी भी बाथरूम में न सुखाएं। इसे बाहर किसी खुली जगह पर धूप में सुखाएं, वर्ना धुलने के बाद भी इसमें बैक्टीरिया पनप सकते हैं।
  • टॉवेल को कभी भी अंडर गारमेंट्स के साथ न धुलें क्योंकि इससे अंडर गारमेंट्स में मौजूद बैक्टीरिया टॉवेल में चले जाते हैं।