भारत-ए की गेंदबाजी के आगे कीवी लाजवाब

भारतीय एकदिवसीय टीम के संभावित खिलाड़ियों से बनी भारत-ए ने न्यूजीलैंड-ए को पहले अनाधिकारिक वनडे में गुरुवार को सात विकेट से मात दी। न्यूजीलैंड-ए पहले बल्लेबाजी करते हुए 167 रन पर ऑलआउट हो गयी, जिसके बाद भारत-ए ने 168 रन का लक्ष्य 31.5 ओवर में ही हासिल कर लिया।

कप्तान संजू सैमसन ने टॉस जीतकर कीवी टीम को बल्लेबाजी के लिये बुलाया और गेंदबाजों ने उनके फैसले को सही साबित किया। शार्दुल ठाकुर ने चैड बोवेस (10), डेन क्लीवर (04), और रॉबर्ट ओ डॉनेल (22) को आउट किया, जबकि कुलदीप सेन ने रचिन रविंद्र (10), जो कार्टर (01) और टॉम ब्रूस (शून्य) का विकेट लिया। कुलदीप यादव ने भी मौका मिलने पर लोगन वैन बीक को पवेलियन भेजा।

न्यूजीलैंड-ए के 74 रन पर आठ विकेट गिरने के बाद माइकल रिपन ने जो वॉकर के साथ मोर्चा संभाला और 89 रन की बहुमूल्य साझेदारी की। रिपन ने 104 गेंदों पर चार चौके लगाते हुए 61 रन बनाये, जबकि जो वॉकर ने तीन चौकों और एक छक्के के साथ 49 गेंदों पर 36 रन बनाकर कीवी टीम को 40.2 ओवर में 167 रन तक पहुंचाया। भारतीय टीम के लिये 168 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए पृथ्वी शॉ और रुतुराज गायकवाड़ ने धीमी शुरुआत की।

गायकवाड़ ने चौथे ओवर में अपने हाथ खोलते हुए सोलिया की गेंद पर छक्का जड़ा। शॉ हालांकि अपने आक्रामक रूप में नजर नहीं आये और सिर्फ एक छक्के के साथ 24 गेंदों पर 17 रन बनाकर पवेलियन लौट गये। गायकवाड़ (41) और राहुल त्रिपाठी (31) ने दूसरे विकेट के लिये 56 रन की साझेदारी की। कप्तान संजू सैमसन (29 नाबाद) और रजत पाटीदार (45 नाबाद) ने तीसरे विकेट के लिये 69 रन जोड़कर भारत को लक्ष्य तक पहुंचाया।

यह भी पढ़े: विश्व नेताओं के समक्ष बाल श्रम रोकने, शिक्षा को बढ़ावा देने की उठी मांग