जानिए नारियल के चमत्कारी फायदे

सूखा नारियल खाने के कई फायदे होते है. यह बहुत ही उपयोगी फल है यह जितनी उचाई पर लगता है उतने ही अधिक इसके गुण भी है नारियल का उपयोग अधिकतर फल के रूप मे ,तेल के रूप मे, कई प्रकार के व्यंजन बनाने मे किया जाता है. पानी वाला नारियल प्राकृतिक रूप से सूख जाने के बाद पूरी तरह से गडी युक्त हो जाता है जिसे एक गोले के रूप में निकाल कर रख लिया जाता है। आवश्यकता पड़ने पर आप इसे फोड़कर इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसमें पानी नहीं होता है बल्कि पानी ही सूखकर नारियल तेल का रूप ले लेता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि नारियल के तेल में बैड कोलेस्ट्रॉल नहीं होता है और इसके कई सारे फायदे होते हैं। इसका इस्तेमाल दुनिया के कई हिस्सों में होता है। ड्राई कोकोनट में डाईटरी फाइबर, कॉपर, मैग्नीशियम और सेलेनियम भी होता है। इसमें उच्च पोषक तत्व होते हैं। इसके स्वास्थ्य लाभ निम्न प्रकार है

नारियल मे बहुत सारे खनिज ,विटामिन ,शक्कर के घटक होते है नारियल के तेल के उपयोग तथा लाभ किसी से छुपे नहीं है. नारियल को श्रीफल कहा जाता है इसे ये नाम इसके पवित्रता से भरपूर गुणों व लक्ष्मीजी का प्रिय होने के कारण दिया गया है। साथ ही नारियल एक सरल और सस्ती औषधि है। इसका प्रयोग हम कई रोगों से निपटने के लिए कर सकते है। नारियल एक लाभकारी नुस्खा है। याददाश्त कमजोर होना, नकसीर आना, मुहांसे निकलना, अनिद्रा, रूसी होना, सिरदर्द, पेट के कीड़े आदि समस्याओं के लिए नारियल रामबाण इलाज है।

गर्भावस्था में सुबह नियमित रूप से 50 ग्राम नारियल की गिरी को चबाने से गर्भवती महिला को स्वास्थ्य में तो लाभ होता ही है। साथ ही गर्भस्थ बालक भी गौरवर्ण का एवं हृष्ट-पुष्ट होता है। इसके अलावा नारियल पानी भी गर्भवती महिला के लिए विशेष रूप से लाभदायक माना गया है इससे गर्भवती में होने वाली उल्टी की समस्या में राहत मिलती है।

नकसीर – नाक से खून निकलने पर कच्चे नारियल का पानी नियमित रूप से पीना चाहिए। साथ ही खाली पेट नारियल के सेवन से भी रक्त का बहाव रुक जाता है।

मुहांसे – नारियल के पानी में खीरे का रस मिलाकर सुबह-शाम नियमित रूप से लगाने से चेहरे के दाग मिट जाते हैं या नारियल के तेल में नींबू का रस अथवा ग्लिसरीन मिलाकर चेहरे पर लगाने से भी मुहाँसे मिट जाते हैं।

पेट के कीड़े – पेट में कीड़े होने पर रोजाना नाश्ते के समय एक चम्मच पिसा हुआ नारियल का सेवन करने से पेट के कीड़े मर जाते हैं। नारियल व पुदीने की चटनी खाने से पेट से जुड़े कई रोगों में राहत मिलती है।

याद्दाश्त- नारियल की गिरी में बादाम, अखरोट एवं मिश्री मिलाकर सेवन करने से स्मृति में वृद्धि होती है। नारियल के तेल में नींबू का रस मिलाकर बालों में लगाने से रूसी एवं खुश्की से छुटकारा मिलता है।

अनिद्रा – रात के भोजन के बाद नियमित रूप से आधा गिलास नारियल पानी पीने से पाचन क्रिया में फायदा होता है और अनिद्रा जैसी बीमारियों से छुटकारा मिलता है।

गुलाब की चाय शरीर के पाचन रसों को संतुलित करती है