जानिए अंडे खाने का सही तरीका जिससे मिलेगा सबसे ज़्यादा

आपको यह जानकर बहुत हैरानी होगी कि पका हुआ अंडा खाने से आपको कईं तरह की परेशानी हो सकती है। इसलिए बेहतर होगा कि आप अपने खाने में कच्चे अंडे का इस्तेमाल अवश्य करें। हर खाद्य पदार्थ की ही तरह पकाया गया अंडा भी कुछ पोषण खो देता है। अगर आप कच्‍चा अंडा खाते हैं तो आपको उसमें मौजूद विटामिन डी, ओमेगा 3, बायोटिन, जिंक, प्रोटीन, कोलेस्‍ट्रॉल और अन्‍य पोषक तत्‍व मिलेंगे, जो पकाए गए अंडे में बहुत कम हो जाते हैं।

अगर आप कच्‍चे अंडे को डायरेक्‍ट नहीं खा सकते हैं तो, उसे किसी स्‍मूदी में मिक्‍स कर लें। कच्‍चे अंडे को फोड़ने से पहले उन्‍हें अच्‍छी प्रकार साबुन के पानी से धोना ना भूलें। इन्‍हें धोने से इनके छिलकों पर मौजूद साल्मोनेला बैक्‍टीरिया साफ हो जाएगा, जिससे संक्रमण का खतरा पूरी तरह ख़त्म हो जाएगा।

कई लोगों को कच्‍चा अंडा इसलिये खाने में डर लगता है कि कहीं उसमें मौजूद बैक्‍टीरिया उन्‍हें बीमार न कर दे। इसलिये हम आपको एक सीमा में रह कर कच्‍चा अंडा खाने की हिदायत देंगे। आइये जानते हैं कच्‍चे अंडे में कितना पोषण छुपा हुआ है-

एलर्जी के रिस्‍क को कम करे

पकाए हुए अंडे में मौजूदा फैट और प्रोटीन की रचना बदल जाती है। जब प्रोटीन आंच के संपर्क में आता है तब, उससे एलर्जी पैदा होने की संभावना रहती है। वे लोग जिन्‍होने कुछ दिनों तक पके अंडे के बजाए कच्‍चा अंडा खाना शुरु किया, उनमें एलर्जी की बीमारी बिल्‍कुल गायब हो गई।

विटामिन B12 और फोलेट का भंडार

कच्‍चे अंडे में आपको जरुरी पोषक तत्‍व, विटामिन्‍स जैसे विटामिन B12 मिल सकता है। एक अंडे में 0.2 मिलीग्राम राइबोफ्लेविन या विटामिन B12, प्राप्‍त हो सकता है। यह शरीर में कार्बोहाइड्रेट्स, प्रोटीन और वसा को ब्रेक डाउन करने के काम आता है। अंडे के कच्‍चे पीले भाग को खाने एनीमिया की बीमारी दूर होती है तथा दिमाग तेज बनता है।

यह भी पढ़ें-

अपनाए ये आसान उपाय स्किन के कालेपन से छुटकारा पाने के लिए