जानिए नाभि खिसकने से होने वाले दुष्प्रभाव

नाभि को मानव शरीर का केंद्र माना जाता है। नाभि स्थान से शरीर की बहत्तर हजार नाड़ियां जुड़ी होती है। नाभि के अपने स्थान से खिसक जाने पर आपको कई प्रकार की प्रॉब्लम का सामना करना पड़ सकता है। ये प्रॉब्लम किसी भी प्रकार की दवा लेने से ठीक नहीं होती। इसका इलाज नाभि को पुनः अपने स्थान पर लाने से ही होता है। आज हम आपको बताएंगे नाभि खिसकने से हमारे शरीर को क्या नुकसान है।

  • नाभि खिसकने पर आपको दस्त , अतिसार , पेचिश आदि की प्रॉब्लम का सामना करना पड़ सकता है।
  • नाभि के ऊपर की तरफ खिसकने पर कब्ज और गैस की प्रॉब्लम का सामना करता पड़ता है। इसके कारण लंबी अवधि में फेफड़ों की समस्या, अस्थमा, डायबिटीज आदि बीमारियां हो सकती है।
  • बाईं और नाभि खिसकने पर आपको सर्दी, जुकाम, खाँसी, कफ आदि की प्रॉब्लम का सामना करना पड़ सकता है।

यह भी पढ़ें: 

आयुर्वेदिक नुस्खों से करें इन गंभीर बीमारियों का उपचार

सेहत के लिए फायदेमंद होता है सोयाबीन !