जानिए दूध सेहत के लिए बेहतर हैं या फिर दही

जैसा की हम सभी जानते हैं दूध और दही दोनों अपनी जगह सेहत के लिए लाभकारी होते हैं. गर्मियों में दही का सेवन करने से कई सारी बिमारियों से छुटकारा मिल सकता हैं. वही दूध पिने से प्रोटीन की मात्रा मिलती हैं और कैल्शियम की कमी दूर होती हैं. लेकिन दूध और सही में से भी दही सबसे ज्यादा लाभकारी होता हैं. आईये जानते हैं कैसे।

*लगभग सभी लवण दही में मौजूद होते हैं।डॉक्टर मानते है कि दूध जल्दी हजम नहीं होता है कब्ज पैदा करता है, दही व मट्ठा तुरंत हजम हो जाता है। जिन लोगों को दूध नहीं हजम होता है। उन्हें दही या मट्ठा लेना चाहिये।किसी भी प्रकार के खाने को दही से हजम किया जा सकता है क्योंकि दही भोजन प्रणाली को दुरूस्त बनाए रखता है।

*इसमें दूध की अपेक्षा कैल्शियम की मात्रा अधिक होती है, इससे हड्डियां और दांत मजबूत होते हैं। यह ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारी से लड़ने में भी मदद करता है। विटामिन ए, डी, और बी-12 से युक्त दही में 100 ग्राम फैट और 98 ग्राम केलोरी है।
*एक दिन में 250ml  दही खाना सही रहता है। हालांकि इसकी मात्रा आपके बाकी के खानपान पर काफी हद तक निर्भर करती है। दही अगर दोपहर में खाई जाए तो इसके फायदे अधिक होते हैं।
*रात्रि में दही का सेवन न करें । मांसाहारी भोजन के साथ दही नहीं खाएं। मधुमेह के रोगियों को दही का सेवन संयम से करना चाहिए। सर्दी, खांसी, जुकाम, टांसिल्स, अस्थमा एवं सांस की तकलीफों में दही का सेवन न करें।