जानिए-कौन सा नमक है आपके लिए सबसे अच्छा

नमक सोडियम का बहुत अच्छा स्त्रोत होता है और यह आपकी सेहत के लिए भी आवश्यक है। आप हर रोज सफेद वाला नमक यानि टेबल सॉल्ट का इस्तेमाल करते होंगे, जो कि खाना पचाने में भी बहुत मदद करता है। हालांकि अधिकतर लोग शरीर की आवश्यकता से अधिक नमक या सोडियम का सेवन करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं नमक सिर्फ एक तरह का ही नहीं होता है और हर नमक के अलग अलग फायदे होते हैं। बता दें कि टेबल सॉल्ट, रॉक सॉल्ट, ब्लैक सॉल्ट, सी सॉल्ट (समुद्री नमक), लो-सोडियम सॉल्ट, एपसॉम सॉल्ट आदि नमक भी आते हैं। आइए जानते हैं कौन-कौनसे नमक होते हैं और इसके क्या-क्या फायदे हैं।

टेबल सॉल्ट (सादा नमक)- यह नमक रिफाइंड वर्जन होता है इसमें सोडियम की मात्रा भी अधिक होती है और कई रिफाइन करते वक्त कई तत्व निकाल भी लिए जाते हैं। इसमें आयोडीन भी पर्याप्त मात्रा में होता है, जिससे आपके शरीर को भी कई बीमारियों से लड़ाई करने में मदद मिलती है। नमक के अधिक सेवन से हड्डियों से कैल्शियम की मात्रा भी बहुत कम होने लगती है, जो कि हड्डियों के लिए भी बहुत जरुरी है। हड्डियों में कैल्शियम की मात्रा कम होने से हड्डियां कमजोर होने लगती है और इनके आसानी से टूटने का भी बहुत खतरा बढ़ जाता है।

रॉक सॉल्ट- इस नमक को सैंधा नमक, लाहोरी नमक, व्रत के नमक के नाम से जाना जाता है, जो कि बिना रिफाइन किया होता है और इसमें कैल्शियम, मैग्नीशियम, पौटेशियम की मात्रा भी बहुत अधिक मात्रा में होती है। यह किडनी की कई बीमारियों के इलाज में बहुत कारगर होता है और इससे कई अन्य फायदे भी होते हैं।

ब्लैक सॉल्ट (काला नामक)- काला नमक भी रॉक सॉल्ट का ही एक पार्ट होता है और यह पाचन तंत्र व पेट के लिए बहुत लाभदायक होता है। हालांकि इसका तय मात्रा में ही सेवन करना चाहिए क्योंकि इसके ज्यादा इस्तेमाल से इसमें मौजूद फ्लोराइड आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है।

सी सॉल्ट- यह नमक वाष्पीकरण के माध्यम से बनाया जाता है और यह सादा नमक की तरह नमकीन नहीं होता है।

लो-सोडियम सॉल्ट- यह पौटेशियम नमक के नाम से भी जाना जाता है और इसमें सोडियम और पौटेशियम क्लोराइड दोनो मौजूद होते हैं। यह नमक ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए लाभदायक होता है और इससे दिल की बीमारी और डायबिटीज में भी बहुत आराम मिलता है। इसके लिए अलावा पिकल सॉल्ट भी होता है, जिसमें सिर्फ सोडियम होता है और ना इसमें आयोडीन ही होता है।