जानिए रोना क्यों है हमारे सेहत के लिए फायदेमंद

जब कोई मन से या किसी शारीरिक कारण की वजह से बहुत ज्यादा दुखी होता है तो वो रोने लग जाता है। आप जब भी किसी को रोता हुए देखते हैं तो भले ही आप उसे रोने से अवश्य रोकते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं रोने के भी कई सारे फायदे होते हैं। आपने कई लोगों को रोते हुए देखा होगा और आप भी कई बार रोए होंगे लेकिन आप शायद ही रोने से जुड़े ये खास फैक्ट्स जानते होंगे, तो आइए जानते हैं रोने से जुड़े हुए ये चौंकाने वाले तथ्य। पहले आपको बता दें कि जब व्यक्ति भावुक होता है, तो एन्डोक्राइन सिस्टम आंख के क्षेत्र को हार्मोन जारी करता है, जो आपकी आंखों में आंसू के रूप से पूरी तरह उभरते हैं।

रोने से आंखों के बैक्टीरिया होते हैं नष्ट- जब आप रोते हैं तो आपकी आंखों में आंसू आते हैं और आंखों से आने वाले आंसुओं में फ्लूइड लाइसोजाइम नाम का एक तत्व होता है जो कि सीमेन, म्यूकस, सलाइवा में पाया जाता है। यह तत्व दस मिनट में आपकी आंखों के 90 फीसदी बैक्टीरिया खत्म कर सकता है।

रोने से मन हल्का होता है- अब आप रोते हैं तो आपको ज्यादा भावुकता से छुटकारा मिलता है। वास्तव में जब आप भावुक होकर रोते हैं और जो आंसू आते हैं वो एक ल्यूसीन-एन्केफलिन जारी करते हैं, ये एक एंडोर्फिन होता है जो आपके मूड को सही करता है और दर्द कम करता है। ऐसा करने से आपको आराम मिलता है और आप अच्छा महसूस करते हैं।

रोने के बाद हो सकती है लड़ाई- कई बार आपने देखा होगा कि जब आप रोते हैं तो आपको ज्यादा गुस्सा आने लगता है। विज्ञान के अनुसार भावुक होने पर दिमाग स्ट्रेस हार्मोन जारी करता है, जिससे आपको गुस्सा आता है। इससे आप झगड़े की स्थिति में आ जाते हैं।

आवाज हो जाती है भारी- आपने अक्सर देखा होगा कि रोने वाले व्यक्ति की आवाज भारी हो जाती है। स्ट्रेस हार्मोन कोर्टिसोल आपके गले में बचैनी पैदा कर देता है और सांसों को धीमा कर देता है। गले में बेचैनी होने को ग्लोबस सेंसेशन कहा जाता है और आपको ऐसा महसूस होता है जैसे गला भारी हो गया है।

आपकी भावनाओं का आदान प्रदान होता है- जब आप रोते हैं, तो आपके भाव बदल जाते हैं, जिससे दूसरे लोग समझ जाते हैं कि आप दुख-तकलीफ में हैं।

यह भी पढ़ें:

इस मानसून में जरूर खाएं इम्यूनिटी बढ़ाने वाली ये 3 चीजें

वायरल फीवर को कुछ ही समय में कीजिए छूमंतर, जानिए कैसे?

Loading...