युवाओं में क्यों हो रही है दिल की बीमारियां, जानिये

वर्तमान समय में बिमारियों से केवल बुजुर्ग ही नहीं बल्कि युवा भी इनके शिकार हो रहे है। पहले जहां हाई ब्लडप्रेशर और हर्ट की बीमारी केवल अधिक उम्र के लोगों में होती थी वहीं अब ये युवाओं में भी तेजी से फैल रही है। बदलती लाइफस्टाइल और खानपान ने सभी को बीमार बना दिया है। अगर कुछ बातों पर गौर करें तो शायद इस गंभीर समस्या का समाधान हो सकता है।

आजकल जॉब करने वाले और बाहर पढ़ने वाले युवक युवतियों को खाना बनाने का समय नहीं मिलता। ऐसे में बाजार में मिलने वाले फास्ट फूड्स खाते हैं। यही फास्ट फूड उनकी सेहत पर बहुत बुरा प्रभाव डालते हैं। लगातार जंक फूड्स खाने मोटापा और हृदय से संबंधित कई गंभीर बीमारियां हो सकती हैं। जंक फूड्स में ट्रांस फैट्स होती है जो हृदय की नलिकाओं में जमा हो जाती है और ब्लड सर्कुलेशन को रोकती है। यही हार्ट अटैक का कारण बी बनता है।

टेक्नोलॉजी के बढ़ने से युवाओं का अधिकांश समय कंप्यूटर और स्मार्ट फोन्स पर ही बितता है। इससे डायबिटीज, हाई ब्लडप्रेशर और मोटापे की समस्या होती है। वहीं आजकल के युवा पैदल नहीं चलना चाहते। थोड़ा सा भी काम हो तो बाइक या कार लेकर जाते है। साथ ही किसी तरह का शारीरिक श्रम भी नहीं करते।

युवा अपने करियर को लेकर बहुत चिंतित होते है। जॉब नहीं मिलना या ऑफिस में बॉस का टार्गेट पूरा नहीं होने पर तनावग्रस्त स्थिति पैदा होती है। तनाव हृदय से संबंधित बीमारियों को जन्म देता है। हृदय संबंधी रोगों से बचने के लिए खान- पान पर पूर्ण ध्यान देना चाहिए। नियमित रूप से व्यायाम करें और तनाव को सकारात्मक सोच से नियंत्रित करें।

यह भी पढ़ें-

सेहत के लिए होगा बहुत फायदेमंद अगर सोते समय तकिए के नीचे रखेंगे नींबू