क्या महाराष्ट्र में गिर जाएगी महाविकास अघाड़ी सरकार? कांग्रेस के ये नेता दे सकते हैं इस्तीफा

महाराष्ट्र में राजनीतिक घटनाक्रम (Maharashtra Political Crisis) तेजी से बदल रहा है. शिवसेना (Shiv Sena) के 22 विधायक पार्टी के संपर्क में नहीं हैं. इनमें कैबिनेट मंत्री से लेकर सांसद भी शामिल बताए जा रहे हैं. इसके बाद उद्धव सरकार पर खतरे के बादल मंडरा रहे हैं. इधर महाराष्ट्र सरकार के कैबिनेट मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बालासाहेब थोराट (Balasaheb Thorat) इस्तीफा दे सकते हैं. बताया जा रहा है कि पिछले काफी समय से वह पार्टी से नाराज हैं.

सूरत के एक होटल में ठहरे हैं सभी विधायक
महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव के नतीजे आने के बाद से ही शिवसेना (Shiv Sena) के 22 विधायक पार्टी के संपर्क में नहीं हैं. बताया जा रहा है कि इनमें से 11 विधायकों ने पार्टी के खिलाफ वोट दिया था. नतीजे आने के बाद से ही शिवसेना के वरिष्ठ नेता और कैबिनेट मंत्री एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) से शिवसेना का संपर्क नहीं हो पा रहा है. सभी विधायक गुजरात के सूरत में एक होटल में ठहरे हुए हैं.

एक एनसीपी विधायक भी ‘गायब’
शिवसेना और कांग्रेस ही नहीं एनसीपी के भी एक विधायक से पार्टी का संपर्क नहीं हो पा रहा है. नासिक जिले की सिन्नर विधानसभा सीट से एनसीपी विधायक माणिकराव कोकाटे (Manikrao Kokate) भी नॉट रिचेबल हैं. बताया जा रहा है पार्टी लगातार उनसे संपर्क करने की कोशिश कर रही है लेकिन उनका फोन बंद आ रहा है.

क्या गिर जाएगी सरकार?
महाराष्ट्र में बहुमत का आंकड़ा 145 का है. हालांकि महाविकास अघाड़ी को 169 विधायकों को समर्थन प्राप्त हैं. इसमें शिवसेना के 56, एनसीपी के 53, कांग्रेस के 44, बहुजन विकास अघाड़ी के 3, सपा के 2 और अन्य के 11 विधायक हैं. वहीं विपक्षी पार्टी बीजेपी और उसके सहयोगियों के पास 113 विधायक हैं. अगर एकनाथ शिंदे 22 विधायकों के साथ बीजेपी के खेमे में जाते हैं तो उसके पास 135 विधायक हो जाएंगे. बीजेपी को इसके बाद भी कुछ और विधायकों को समर्थन लेने की जरूरत पड़ेगी.

यह भी पढ़ें:

ट्रैफिक पुलिस की अब नहीं चलेगी मनमानी, कार, मोटरसाइकिल का काटे गलत चालान तो देखें क्या कहता है नियम