ललितपुर : रिश्वत लेने के आरोप में लेखपाल को किया गया निलंबित

उत्तर प्रदेश के ललितपुर में राजस्व निरीक्षक की मौजूदगी में लेखपाल विनोद दुबे द्वारा जमानत तस्दीक के नाम पर एक युवक से पैसे लेने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद जिला प्रशासन ने शुक्रवार को लेखपाल को निलंबित कर दिया।

कोतवाली सदर क्षेत्र के ग्राम सतरवांस निवासी एक युवक जिला कारागार में निरूद्ध है। इलाहाबाद उच्च न्यायालय से उसकी जमानत होने के बाद जमानत तस्दीक के लिए उसका भाई लेखपाल विनोद दुबे के पास गत सप्ताह शनिवार को गया था। लेखपाल ने उससे रिश्वत के तौर पर 500 रुपये लेकर उसे सोमवार को बुलाया। सोमवार को जब युवक पहुंचा तो लेखपाल ने यह कहते हुए जमानत तस्दीक नहीं की कि उसकी रिपोर्ट गलत लग गई है।

उससे लेखपाल ने 300 रुपये फिर ले लिये। इसके बाद युवक जब मंगलवार को लेखपाल के पास फिर पहुंचा तो राजस्व निरीक्षक विनोद यादव की मौजूदगी में लेखपाल ने युवक से जमानत तस्दीक के नाम पर 500 रुपये फिर ले लिये। युवक ने लेखपाल को दी गई रिश्वत का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया।

जब यह वीडियो उप जिलाधिकारी सदर मोहम्मद आवेश के पास पहुंचा तो उन्होंने लेखपाल विनोद दुबे को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। साथ ही राजस्व निरीक्षक विनोद यादव से स्पष्टीकरण मांगा गया है। तहसीलदार सदर श्याम मणि त्रिपाठी ने बताया कि जनता का काम करने के बदले में पैसे लेने के आरोप में लेख्सपाल को काे उजागर करने वाला लेखपाल विनोद दुबे का वीडियो सामने के आने पर उप जिलाधिकारी सदर ने लेखपाल को निलंबित कर दिया गया है व राजस्व निरीक्षक विनोद यादव से स्पष्टीकरण मांगा है।

यह भी पढ़े: कोडरमा : अवैध लॉटरी टिकट के साथ पांच गिरफ्तार