करतारपुर साहिब गुरुद्वारे को लेकर भारत की PAK को लताड़, कहा- यह निंदनीय

भारत ने करतारपुर साहिब गुरुद्वारा का प्रबंध एवं देखरेख का काम एक गैर सिख संस्था को सौंपे जाने पर पाकिस्तान सरकार को लताड़ लगाई हैं। भारत ने इस पर अपना कड़ा विरोध दर्ज कराते हुए पाकिस्तान सरकार से आह्वान किया कि वह सिखों की भावनाओं के विरुद्ध अपने इस मनमाने फैसले को वापस लेवें।

विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा कि पाकिस्तान द्वारा पवित्र गुरुद्वारा करतारपुर साहिब का प्रबंधन एवं देखरेख का काम अल्पसंख्यक सिख समुदाय की संस्था पाकिस्तान सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी से लेकर एक गैर सिख संस्था इवेक्वी ट्रस्ट प्रॉपर्टी बोर्ड के हाथों दे रहा हैं, हमने ऐसी रिपोर्ट्स देखी हैं।’

मंत्रालय ने कहा पाक का यह निर्णय एकतरफा हैं, जिसकी हम निंदा करते हैं। करतारपुर साहिब कॉरीडोर खोले जाने की भावना और सिख समुदाय के धार्मिक ख्यालों के विरुद्ध है। इस तरह के कदम पाक सरकार और धार्मिक अल्पसंख्यक समुदायों के अधिकारों एवं कल्याण के दावों की असलियत उजागर करते हैं।

यह भी पढ़े: नीतीश कुमार ने चौंकाया, कहा-बिहार विधानसभा चुनाव 2020 मेरा आखिरी चुनाव है
यह भी पढ़े: गुर्जरों का नहीं मिला हल, अब जाटों की चेतावनी ने बढ़ाई गहलोत सरकार की टेंशन