जानें कैसे केवल 3 मिनट में रहें ऑफिस में रोज़ाना फिट एंड फ्रेश

हम सारा दिन ऑफिस में काम करते है। सुबह 9 बजे से लेकर शाम 6 बजे या उससे भी ज्यादा। हर दिन 8 से 9 घंटे लगातार काम करते रहना आसान नहीं होता। आप थक जाते है। और सुस्ती भी आ जाती है। पूरा दिन कंप्यूटर के सामने बैठे रहना आपके स्वस्थ के लिए वैसे भी अच्छा नहीं होता। ये आपके लिए नुकसानदेह है। ऐसा हम सब के साथ होता है। की सुबह हम नहा धोकर फ्रेश होकर ऑफिस जाते तो है , पर जैसे जैसे दिन ढलता है , सारी ताज़गी निकल जाती है ,और सुस्त पड़ ही जाते हो। लेकिन आप इस सुस्ति से बच सकते है , अगर आप ये कुछ आदते अपनाये तो…

सीढ़ियो से चढ़ें

अगर आपके ऑफिस में या काम करने की जगह पर सीढ़ियां हैं तो लिफ्ट की जगह उनका इस्तेमाल करें। ऐसे में आप खुद को एक्टिव रख पाएंगे।

फ्लेवर्ड पानी पिएं

दिन में खुद को हाइड्रेट करके रखना काफी जरूरी होता है। ऐसे में आपके शरीर से टॉक्सिन्स निकलते हैं। लेकिन साधारण पानी को त्यागकर आप अगर फ्लेवर्ड पानी पिएंगे तो वो आपके लिए ज्यादा फायदेमंद रहेगा।

डियो स्टिक रखें

अगर आपको पसीना आने की दिक्कत है तो अपने साथ एक अच्छी खुशबूदार डियो स्टिक रखें और काम के बीच-बीच में लगाते रहें। इससे आपका मूड अच्छा रहेगा और आप छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा नहीं करेंगे और हां शरीर से दुर्गंध भी नहीं आएगी।

स्ट्रेस लेवल को नियंत्रण

हम में से कई लोग खुद को एक्टिव रखने के लिए एक्सरसाइज करते हैं। अगर आप ऐसा करना स्किप कर रहे हैं तो चिंता न करें ऑफिस में सीट पर बैठे-बैठे आप कई एक्सरसाइज कर सकते हैं और अपने स्ट्रेस लेवल को नियंत्रण में ला सकते हैं।

फेस मिस्ट

बॉडी को पैंपर करने के लिए हम न जाने कितनी चीजें करते हैं। ऐसे में अगर आपका चेहरा थका हुआ लग रहा है तो खुद की स्किन टाइप के अनुसार फेस मिस्ट तैयार करें और उसे अपने बैग में कैरी करें। ऐसा करने से भी आप खुद को तरोताजा महसूस करा पाएंगे।

कहते हैं कि कैफीन के सेवन से आपकी थकान दूर होती है। ये आपके स्ट्रेस लेवल को भी कम करने का काम करती है। लेकिन अगर आप इसे नहीं लेंगे तो शायद ज्यादा फ्रेश महसूस कर पाएंगे। क्योंकि कई बार ज्यादा कैफीन का सेवन भी हमारे शरीर को नुकसान पहुंचाता है।

बीच-बीच में बैठे-बैठे अगर आप खा रहे हैं तो उसकी कैलोरी बर्न करना न भूलें। इससे आपका वजन नियंत्रण में रहेगा और फ्रेश महसूस करते रहेंगे। कई बार वजन बढ़ना भी हमारे स्ट्रेस लेवल का एक कारण होता है।

यह भी पढ़ें-

जानिए टिप्स बढ़ती उम्र के बावजूद भी आप ऐसे रेह सकते स्वस्थ