गर्म पानी में नींबू या फिर मेथी और जीरे का पानी, वजन घटाने के लिए बेहतर क्या है, जानिए

बढ़ता वज़न ना सिर्फ पर्सनालिटी को खराब करता है बल्कि सेहत को भी नुकसान पहुंचाता है। वज़न को कंट्रोल करने के लिए जितना वर्कआउट और डाइट पर कंट्रोल जरूरी है, उतना ही देसी नुस्खों का इस्तेमाल करना भी फायदेमंद है। वज़न घटाने के लिए लोग खाना खाना बंद कर देते हैं, जिम जाते हैं, डायटिंग करते हैं, बावजूद इसके लोगों को बढ़ता वजन और मोटापा कम ही नहीं होता।

वज़न घटाने के लिए कुछ लोग किचन में मौजूद जीरा, मेथी और नींबू पानी का भी खूब सेवन करते हैं। यह कुछ आसान घरेलू तरीके हैं जिनके जरिए मोटापे के साथ-साथ बढ़ता वजन भी कंट्रोल किया जा सकता है। आइए जानते हैं कि जीरे का पानी और गर्म पानी के साथ नींबू का सेवन किस तरह वज़न घटाने में असरदार है।

वज़न घटाने के लिए गर्म नींबू पानी बेहतर है या मेथी और जीरा पानी:

दिन की शुरुआत हेल्दी ड्रिंक्स के साथ करना सेहत के लिए एक अच्छा उपाय है। हालांकि विशेषज्ञों के मुताबिक हेल्दी ड्रिंक्स वजन कम करने में भूमिका नहीं निभाते हैं, लेकिन यह पाचन को दुरुस्त रखने की प्रक्रिया में अहम रोल निभाते हैं।

गर्म पानी और नींबू के फायदे:

गर्म पानी के साथ नींबू और शहद का सेवन बॉडी पर जादुई असर करता है। माना जाता है कि इसका सेवन करने से वज़न को जल्दी कंट्रोल किया जा सकता है। गर्म पानी के साथ नींबू के फायदों की बात करें तो यह विटामिन सी का एक अच्छा स्रोत है, जिससे बॉडी हाइड्रेट रहती है। इसका सेवन करने से कब्ज की समस्या से छुटकारा मिलता है। आयुर्वेद के अनुसार, नींबू में खट्टापन आपकी अग्नि पर काम करता है जो पाचन तंत्र को सक्रिय करता है, जिससे टॉक्सिन को बनने से रोकने में मदद मिलती है।

गर्म नींबू पानी के नुकसान:

हालांकि गर्म नींबू पानी पीना पूरी तरह से सुरक्षित है, लेकिन इससे बार-बार बाथरूम जाना पड़ सकता है। विटामिन सी बॉडी में मूत्रवर्धक के रूप में कार्य करता हैं।

मेथी और जीरा पानी के फायदे:

पिछले साल कई हस्तियों ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर हेल्थ से जुड़े सुझाव सांझा किए। मलाइका अरोड़ा एक ऐसी हस्ती थीं, जिन्होंने अपने एक पोस्ट में साझा किया कि वह मेथी और जीरा के बीज रात भर पानी में भिगोती हैं और सुबह वह पानी पीती हैं। मेथी और जीरा का पानी शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है, और पाचन को ठीक रखता है। मेथी के बीज प्री डायबिटिक और मधुमेह रोगियों के लिए बहुत अच्छे होते हैं।

मेथी जीरा पानी के नुकसान:

जबकि मेथी का भीगा हुआ पानी साल भर सुरक्षित रहता है, जीरा का पानी गर्म प्रकृति का होता है और अप्रैल, मई और जून जैसे गर्म महीनों के दौरान इसे सीमित मात्रा में पीना चाहिए। गर्मी के दिनों में आप अपने पाचन तंत्र को ठंडा रखने के लिए सौंफ के पानी का सेवन कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें- कहीं आप भी तो नहाते समय लूफा यूज़ नहीं करते, हो जाइये सावधान