आपके सेहत के लिए 6 घंटे से कम की नींद हो सकती है हानिकारक !

आजकल की इस बिजी और भाग-दौड़ की जिंदगी में हम अपने उपर ध्यान देना बहुत कम कर देते हैं। इस कारण हम 6 घंटे से भी कम नींद लेने के आदी हो जाते हैं।

लेकिन आपको बता दें कि ऐसा करना बहुत ही ज्यादा खतरनाक हैं। छह घंटे से कम की नींद मेटाबोलिक सिंड्रोम से पीड़ित लोगों में मृत्यु का जोखिम लगभग दोगुना कर सकती है। मेटाबोलिक सिंड्रोम मधुमेह, उच्च रक्तचाप और मोटापे जैसे रोगों को कहते हैं। एक अध्ययन से पता चला है कि मेटाबॉलिक सिंड्रोम से पीड़ित लोग अगर छह घंटे से अधिक की नींद लेते हैं तो उन्हें स्ट्रोक के कारण मौत का जोखिम लगभग 1.49 गुना अधिक होता है।

वहीं, इसके उलट छह घंटे से कम सोने वालों को हृदय रोग से मौत का जोखिम लगभग 2.1 फीसदी अधिक होता है। रिसर्चर्स ने बताया कि मेटाबॉलिक सिंड्रोम से पीड़ित कम नींद लेने वालों को बगैर मेटाबॉलिक सिंड्रोम से पीड़ित लोगों की तुलना में किसी भी कारण से लगभग 1.99 प्रतिशत अधिक मौत का जोखिम होता है।

यूनिवर्सिटी ऑफ पेंसिलवेनिया से सहायक प्राध्यापक व इस अध्ययन के मुख्य लेखक ने कहा, “अगर आप हृदय रोग के जोखिम से बुरी तरह गुजर रहे हैं तो अपनी नींद का ध्यान रखें और अगर आप नींद की कमी से ग्रस्त हैं तो इस जोखिम से बचने के लिए चिकित्सक से परामर्श अवश्य लें।”

यह भी पढ़ें-

जानिए तम्बाकू छोड़ने के आसान घरेलू नुस्खे जिसे जानकार हो जायेंगे हैरान !