बिना डाइटिंग किए इन 4 तरह की चाय से घटाएं अपना वजन

ऐसे बहुत कम लोग हैं, जो अपने वज़न को लेकर संतुष्ट होते हैं। कुछ लोग बढ़ते वज़न से परेशान होते हैं, तो कुछ वज़न न बढ़ने से। हालांकि, ज़्यादातर लोग सही वज़न को बनाए रखने से जूझते हैं। वज़न न बढ़े इसके लिए तरह-तरह के नुक्से ढूढ़ते हैं। हम डाइटिंग करते हैं, जिम जाते हैं, योगा करते हैं, लेकिन आज हम आपको बता रहे हैं वज़न कम करने का आसान सा उपाय। जी हां, आप चाय की मदद से बिना डाइटिंग किए मोटापे को कम कर सकते हैं।

4 तरह की चाय जिसे बनाना भी आसान है, आपके वज़न को कुछ ही दिनों में कम करने का काम कर सकती है। रोज़ाना वर्कआउट करने के बाद आपको इसे पीना है।

कैमोमाइल चाय

कैमोमाइल टी सबसे हेल्दी चाय में से एक मानी जाती है। यह एक ऐसी हर्बल चाय है जिसे काफी लोग पसंद भी करते हैं। कैमोमाइल-टी असल में एक जड़ी बूटी है जो फूल से बनती है। ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को संतुलित कर वज़न घटाने में फायदेमंद हो सकती है। इससे दिल से जुड़ी समस्याएं कम हो सकती हैं। एंटीऑक्सीडेंट होने के कारण, रोज़ाना कैमोमाइल-टी का सेवन शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को बूस्ट करता है।

सिंहपर्णी चाय

सिंहपर्णी चाय लगातार बढ़ रहे वज़न को रोकने और मोटापे को कम करने में फायदेमंद साबित होती है। इस चाय के सेवन से लीवर डिटॉक्स भी होता है। इस चाय का रोज़ाना सेवन करने से आप आसानी से वज़न कम कर सकते हैं।

दालचीनी चाय

दालचीनी के अनेक फायदे हैं। भारतीय किचन में यह हमेशा पाई जा सकती है। दालचीनी की चाय आपके मेटाबॉलिज़्म को बढ़ाने का काम करती है, ब्लड शुगर के स्तर को कंट्रोल करती है, जिससे आपका वज़न तेज़ी से कम होने के साथ ही बॉडी भी फिट रह सकती है। दालचीनी आपके पाचन तंत्र को बेहतर बनाने में भी फायदेमंद हो सकती है।

मोरिंगा चाय

मोरिंगा चाय अम्लतास के पेड़ से बनाई जाती है। मोरिंगा में एमीनो एसिड काफी मात्रा में पाया जाता है। उत्तर भारत में मोरिंगा काफी मात्रा में पाई जाती है। मोरिंगा चाय हमारे शरीर में धीरे-धीरे जमा हो रहे फैट को बर्न करने का काम कर सकती है।

यह भी पढ़ें- ये छोटी-बड़ी परेशानियां होगी दूर, पुदीना का कीजिए यूज