महापौर प्रत्याशी ने नाम लिया वापस,दिल्ली कमान में हलचल

पहली ही बार एमपी के चुनाव में हाथ आजमा रही आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका लगा है।दरअसल नगरीय निकाय चुनाव में भोपाल से मेयर मेयर कैंडिडेट रानी विश्वकर्मा ने चुपचाप अपना नाम वापस ले लिया। वहीं बताया जा रहा है कि इस बात की जानकारी पार्टी के किसी भी नेता या कार्यकर्ता को नहीं दी गई। यह जानकारी मंगलवार दोपहर में ‘आप’ नेताओं को लगी।आप पार्टी की जिलाध्यक्ष रीना सक्सेना कलेक्टर ऑफिस पहुंची। उन्होंने डिप्टी कलेक्टर निशा बांगरे से नाम वापसी के संबंध में जानकारी ली।बताया जा रहा है कि इसके बाद पार्टी कमान उनके उपर अनुशासनात्मक कार्रवाई करने जा रही है।

पार्टी का पहला मामला
बता दें कि दिल्ली और पंजाब में विधानसभा चुनाव जीतने के बाद आम आदमी पार्टी पहली बार मध्यप्रदेश के नगरीय निकाय चुनाव में किस्मत आजमा रही है। प्रदेश के सभी 16 नगर निगमों से मेयर कैंडिडेट(महापौर प्रत्याशी) उतारे हैं।लेकिन भोपाल से मेयर कैंडिडेट के नामांकन वापस लिए जाने का यह पहला मामला है। इससे पूरी पार्टी में हलचल हैं। बताया जा रहा है कि दिल्ली तक मामला पहुंच चुका है।

अब रईसा मलिक बची विकल्प
रानी के नॉमिनेशन वापस लेने के बाद अब पार्टी के पास रईसा बेगम मलिक ही विकल्प बची है। रईसा मलिक कांग्रेस छोड़कर आम आदमी पार्टी में आई है। उन्होंने भी मेयर कैंडिडेट का नॉमिनेशन जमा किया है। ऐसे में अब पार्टी उन्हें ही अपना कैंडिडेट घोषित कर सकती है

यह भी पढ़ें:

ट्रैफिक पुलिस की अब नहीं चलेगी मनमानी, कार, मोटरसाइकिल का काटे गलत चालान तो देखें क्या कहता है नियम