कोरोना टीके पर महाराष्ट्र और केंद्र में रार ! स्वास्थय मंत्री ने लगाया भेदभाव का आरोप

कोरोना वैक्सीन की आपूर्ति को लेकर महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा हैं। उन्होंने कहा हैं कि केंद्र द्वारा महाराष्ट्र को जरुरत से काफी कम वैक्सीन सप्लाई की जा रही हैं। वहीं, दूसरी तरफ आबादी के हिसाब से गुजरात और यूपी जैसे राज्यों को महाराष्ट्र से अधिक वैक्सीन दी जा रही है। टोपे ने स्पष्ट रूप से कहा कि अब महाराष्ट्र के पास सिर्फ दो दिन की वैक्सीन बची है। ऐसे में बढ़ते कोरोना संक्रमण पर लगाना आसान नहीं हैं।

राजेश कहा कि महाराष्ट्र को अब तक प्रति सप्ताह कोरोना वैक्सीन की मात्र 7.5 लाख खुराकें दी गई हैं। जबकि उत्तर प्रदेश, गुजरात और हरियाणा आदि को महाराष्ट्र से अधिक वैक्सीन दी गई है। उन्होंने कहा गुजरात की आबादी महाराष्ट्र से आधी है। फिर भी गुजरात को अधिक वैक्सीन मिल रही है।

उन्होंने कहा हाल ही में केंद्र ने वैक्सीन की खुराकों की संख्या 7 लाख से बढ़ाकर 17 लाख की हैं। लेकिन हमें एक सप्ताह में 40 लाख वैक्सीन की खुराक की जरूरत है और इस हिसाब से 17 लाख हमारे लिए पर्याप्त नहीं हैं। हम केंद्र से हर हफ्ते कम से कम कोरोना वैक्सीन की 40 लाख खुराक चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि अन्य देशों को टीके की आपूर्ति करने के बजाय, उन्हें हमारे अपने राज्यों में आपूर्ति करनी चाहिए। केंद्र हमारी मदद कर रहा है मगर उस तरह से मदद नहीं कर रहा है, जैसा होना चाहिए। टोपे ने कहा उन्होंने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन के समक्ष भी राज्य के साथ हो रहे भेदभाव के बारे में बताया।

यह भी पढ़े: कहीं मिलावटी दूध तो नहीं पी रहे आप, ऐसे करें इसका पहचान
यह भी पढ़े: सत्तू का कीजिए सेवन, गर्मी रहेगी दूर