Breaking News
Home / क्राइम / क्या है मेजर द्वारा की गयी दोस्त की पत्नी की हत्या का सच ?

क्या है मेजर द्वारा की गयी दोस्त की पत्नी की हत्या का सच ?

दिल्ली के कैंट इलाके में दिनदहाड़े एक महिला की गला काटकर की गयी हत्या की वारदात ने पूरे शहर में सनसनी मचा दी है। पुलिस ने सूचना सुचना मिलते ही जांच शुरू कर दी । मृतक महिला की शिनाख्त सेना में कार्यरत एक मेजर की पत्नी (शैलजा द्विवेदी) के तौर पर होती है। शैलजा मिसेज इंडिया अर्थ 2017 की फाइनलिस्ट रह चुकी थीं । सामने जो आया उसने सबके होश उड़ा दिए। हालांकि शैलजा हत्याकांड में अभी कई खुलासे होने बाकी हैं। पर पुलिस ने महज 24 घंटों में हत्याकांड में शामिल एक आरोपी मेजर निखिल हांडा को गिरफ्तार कर लिया है। अब पुलिस इस मामले की तह तक जाने और हत्या के पीछे छिपे कारणों को पता लगाने की कोशिश में हैं। फिलहाल ऊपरी तौर पर यह मामला लव एंगल से जुड़ा नजर आ रहा है। मेजर निखिल हांडा की गिरफ्तारी के बाद हत्या की गुत्थी काफी हद तक सुलझती नजर आ रही है।
शैलजा के कत्ल का मामला सामने आने के बाद पुलिस ने भी पूरी मुस्तैदी से मामले की जांच शुरू कर दी थी। शैलजा के मोबाइल की जांच की गई तो अखिरी कॉल निखिल हांडा की मिली और इसी आधार पर पुलिस इस हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने में सफल रही।

loading...

पुलिस पूछताछ में अमित ने बताया कि दिल्ली आने से पहले दीमापुर में उनकी पोस्टिंग थी, यहां पर उनकी पत्नी की नजदीकियां एक दूसरे मेजर से बढ़ गई थीं। दिल्ली आने के बाद भी उनकी पत्नी की उस मेजर से बातचीत होती थी। शैलजा की हत्या के बाद मेजर हांडा अपनी कार में दिल्ली-एनसीआर में ही घंटों इधर-उधर चक्कर काटता रहा। इस दौरान उस ने अपना मोबाइल भी स्विच ऑफ कर रखा था। पुलिस ने CCTV फुटेज में कार की तो पहचान कर ली थी लेकिन कार में बैठे मेजर हांडा की पहचान नहीं हो सकी थी। आशंका है कि कत्ल से पहले किसी बात पर कातिल और शैलजा के मनमुटाव भी हुआ था। पुलिस का कहना है कि दो और लोग शैलजा से टच में थे, उनके फोन स्विच ऑफ हैं। ये दोनों परिवार के बेहद करीबी हैं।

शैलजा शनिवार सुबह 10 बजे आर्मी की गाड़ी से ही फिजीयोथैरेपी कराने आर्मी के बेस अस्पताल गई थीं। ड्राइवर ने पुलिस को बताया कि उसने शैलजा को सुबह 10:30 बजे हॉस्पिटल ड्रॉप किया था।  लगभग 1 बजकर 28 मिनट पर दिल्ली छावनी मेट्रो स्टेशन के पास बराड़ चौराहे पर शैलजा की लहूलुहान लाश मिली थी।

बिहार: सीट बंटवारे को लेकर सियासी घमासान, यह है जेडीयू की मांग

Loading...
loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *