बच्चों को सुलाएं सही समय पर, नहीं तो पढाई में कमजोर हो जाएगा बच्चा

वर्तमान समय में बड़े लोगों की अव्यवस्थित जीवनशैली का प्रभाव बच्चों के जीवन पर भी पड़ा है। आजकल बच्चे भी माता-पिता के साथ देर रात जागते हैं और फिर सुबह उन्हें जल्दी उठता पड़ता है। इस प्रकार अनियमित नींद का विपरीत असर उनके स्वास्थ्य पर पड़ता है। आईए जानते हैं अनियमित नींद के बच्चों पर होने वाले विपरीत प्रभाव के बारे में-

  • जो बच्चे नियमित रूप से सही समय पर नहीं सोते, उनकी याददाश्त अपेक्षाकृत कमजोर होती है। ऐसे बच्चों को चीजें याद करने व नई चीज को समझने में परेशानी होती है।
  • अमूमन बच्चे नींद न पूरी होने पर सुस्त महसूस करते हैं। ऐसे बच्चों का पढ़ाई में मन नहीं लगता और वे पढ़ाई मे कमजोर होते चले जाते हैं।
  • ऐसे बच्चों में चिड़चिड़ापन व एकाग्रता में कमी भी दिखाई देती है।

यह भी पढ़ें:

सेहत के लिए बेहद गुणकारी होता है कच्चा पपीता, जानिए इसके फायदे

बालों से जुड़ी सभी समस्याओं का रामबाण इलाज है आलू का रस, जानिए लगाने का तरीका