नीतीश कुमार को CM बनाना हारे हुए पहलवान को पदक दिलाने जैसा: शिवसेना

बिहार में महागठबंधन की हार और एक बार फिर एनडीए की सरकार बनने पर शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में नीतीश कुमार पर तंज कसा हैं। उसमें लिखा गया हैं ‘नीतीश को फिर से मुख्यमंत्री का पद मिल सकता हैं लेकिन उन्हें बीजेपी के निर्देशों पर काम करना होगा।’ सामना में आगे लिखा कि ‘भाजपा और राजद वैचारिक रूप से दो अलग-अलग दल हैं, जिन्हें राज्य में सर्वाधिक वोट हासिल हुए हैं। लेकिन जदयू को लोगों ने खारिज कर दिया हैं।’

संपादकीय में आगे लिखा गया, ‘ऐसे में नीतीश कुमार को राज्य का सीएम बनाना मतदाताओं के लिए अपमान जैसा होगा। यह समारोह एक पहलवान को पदक दिलाने के लिए होगा जो लड़ाई हार गया हो।’ बता दे बिहार चुनाव में नीतीश की पार्टी जदयू एनडीए गठबंधन का हिस्सा है। इस गठबंधन को 125 सीटों के साथ बहुमत प्राप्त हुआ हैं। ऐसे में एनडीए के मुख्यमंत्री उम्मीदवार नीतीश कुमार ही लगातार चौथी बार बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले हैं।’

शिवसेना ने की तेजस्वी यादव की तारीफ

सामना में राजद नेता तेजस्वी यादव की तारीफ की गई हैं। जिसमें कहा गया हैं कि बिहार में तेजस्वी का भविष्य है, उन्हें कुछ समय के लिए इंतजार करना होगा। संपादकीय में आगे कहा गया कि भले ही भाजपा ने नंबर गेम जीत लिया हो, लेकिन असली विजेता 31 वर्षीय तेजस्वी यादव ही हैं।

यह भी पढ़े: बिहार में महागठबंधन की हार की वजह बनी कांग्रेस, पार्टी में उठ रहे बगावती सुर
यह भी पढ़े: बिहार की हिलसा सीट पर महज 12 वोट से हारा RJD प्रत्याशी, लगा धांधली का आरोप