ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से BSF के अधिकार क्षेत्र को बढ़ाने के फैसले को वापस लेने की मांग

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और राज्य में बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र का विस्तार करने के केंद्र के फैसले को वापस लेने की मांग की। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सुप्रीमो ने पश्चिम बंगाल से जुड़े कई मुद्दों पर भी चर्चा की।

बनर्जी ने दिल्ली में संवाददाताओं से कहा, “मैंने राज्य से जुड़े कई मुद्दों पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। हमने बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र के विस्तार के मुद्दे पर भी बात की और इस फैसले को वापस लेने की मांग की।” इससे पहले बुधवार को राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने बनर्जी से मुलाकात की।

ममता बनर्जी 25 नवंबर तक राष्ट्रीय राजधानी में रहने वाली हैं।उनकी यात्रा संसद के शीतकालीन सत्र से कुछ दिन पहले हो रही है, जो 29 नवंबर से शुरू होने वाला है। मंगलवार को कांग्रेस के पूर्व नेता कीर्ति आजाद और जद (यू) के पूर्व राज्यसभा सांसद पवन वर्मा राष्ट्रीय राजधानी में ममता बनर्जी की मौजूदगी में टीएमसी में शामिल हो गए। केंद्र ने इससे पहले अक्टूबर में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) को भारत-पाकिस्तान और भारत-बांग्लादेश सीमाओं के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) से भारतीय क्षेत्र के अंदर 50 किलोमीटर के क्षेत्र में तलाशी लेने, संदिग्धों को गिरफ्तार करने और जब्ती करने का अधिकार दिया था।

बीएसएफ, जिसे केवल पंजाब, पश्चिम बंगाल और असम राज्यों में 15 किलोमीटर तक कार्रवाई करने का अधिकार था, को अब केंद्र या राज्य सरकारों से बिना किसी बाधा या अनुमति के अपने अधिकार क्षेत्र को 50 किमी तक बढ़ाने के लिए अधिकृत किया गया है।

यह भी पढ़ें:

बाबा रामदेव के पतंजलि समूह द्वारा नेपाल में दो टीवी चैनल लॉन्च करने के बाद खड़ा हुआ विवाद