‘सुल्ली डील’ एप बनाना वाला गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने ‘सुल्ली डील’ एप बनाने वाले ओंकारेश्वर ठाकुर को मध्य प्रदेश के इंदौर से गिरफ्तार किया है। दिल्ली पुलिस इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रैटेजिक ऑपरेशंस (आईएफएसओ) के उपायुक्त केपीएस मल्होत्रा ने रविवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा, “प्रारंभिक पूछताछ के दौरान ठाकुर ने स्वीकार किया है कि वह ट्विटर पर एक ‘ट्रेड-ग्रुप’ का सदस्य था, जिसे अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं को बदनाम करने और ट्रोल करने के लिए बनाया गया था।”

मल्होत्रा ने कहा ठाकुर ने कथित तौर पर गिटहब पर कोड बनाया था। उसने अपने ट्विटर एकाउंट पर एप को शेयर किया था। ग्रुप के सदस्यों ने मुस्लिम महिलाओं को फोटो को अपलोड किया था। डीसीपी ने कहा कि वह जनवरी 2020 में ट्विटर हैंडल @गंगासियोन का इस्तेमाल करते हुए ‘ट्रेडमहासभा’ नाम से एक ट्विटर ग्रुप में शामिल हुआ था।

पुलिस के अनुसार विभिन्न ग्रुप से चर्चाओं के दौरान सदस्यों ने कथित तौर पर मुस्लिम समुदाय की महिलाओं को ट्रोल करने के बारे में चर्चा की थी। उन्होंने कहा कि सुल्ली डील्स एप को लेकर हंगामे के बाद ठाकुर ने अपने सभी सोशल मीडिया फुटप्रिंट हटा दिए थे। इस बीच पुलिस ने कहा कि ‘सुल्ली डील्स’ एप से संबंधित कोड/इमेज का पता लगाने के लिए तकनीकी उपकरणों का और विश्लेषण किया जा रहा है।

यह भी पढ़े: 400 से अधिक संसद कर्मचारी कोरोना संक्रमित