मनोज सिन्हा ने कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा की

केंद्रशासित प्रदेश जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने रविवार को कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा की। सिन्हा ने जिला प्रशासन को बूस्टर वैक्सीन की ख्रुराक शुरू करने के तैयारी में तेजी लाने तथा स्वास्थ्य टीमों को सभी सहायता प्रदान करने का निर्देश दिये। उन्होंने कोविड हेल्प-लाइन की प्रभावी कार्यक्षमता सुनिश्चित करने और संयुक्त प्रवर्तन टीमों को काम पर रखने के अलावा वॉर रूम को तत्काल सक्रिय करने के भी निर्देश दिये।

उन्होंने कहा , “ हमें संक्रमण के मामलों में वृद्धि से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार रहना चाहिए। पंचायत स्तर पर मौजूदा विकेन्द्रीकृत प्रणाली को तत्काल चिकित्सा ध्यान देने के लिए कार्यात्मक बनाया जाना चाहिए।” उपराज्यपाल ने कहा , “ कल से हम स्वास्थ्य देखभाल कार्यकर्ता , फ्रंटलाइन वर्कर्स, और 60 वर्ष से अधिक आयु के बीमार लोगों को वैक्सीन की बूस्टर खुराक देना शुरू करेंगे। वॉक-इन और पंजीकृत पात्र आबादी के लिए सभी आवश्यक व्यवस्था की जानी चाहिए।” उन्होंने पुलिस कर्मियों, स्वास्थ्य कर्मियों, सरकारी कर्मचारियों से लोगों की सेवा करते समय सभी एहतियाती कदम उठाने का भी आग्रह किया।

स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव विवेक भारद्वाज ने पूरे केंद्र शासित प्रदेश में कोविड -19 स्थिति और खतरे के स्तर, परीक्षण की स्थिति, संपर्क ट्रेसिंग और टीकाकरण के जिलेवार विश्लेषण पर विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 15-18 वर्ष आयु वर्ग के लिए टीकाकरण अभियान पूरे यूटी में सुचारू रूप से चल रहा है।

यह भी पढ़े: गोवा विस चुनाव के लिए आप ने जारी की उम्मीदवारों की दूसरी सूची