शरीर के मेन पॉइंट की मसाज से होता है अत्यधिक फायदा

वर्तमान समय की इस भागदौड़ भरी जिदंगी में बदलते खानपान के कारण लोग अपनी सेहत का पूरी तरह ध्यान नहीं रख पाते जिस वजह से उन्हें कई छोटी-बड़ी गंभीर बीमारियां लगी रहती हैं। इनमे से सिर दर्द, एसिडिटीट दर्द जैसी गंभीर समस्याएं आम हैं लेकिन इसके लिए लोग कई तरह की दवाओं का सेवन करते हैं जिससे शरीर को बहुत अधिक नुकसान पहुंचता है। लेकिन क्या आप जानते है की इन छोटी-मोटी गंभीर समस्याओं से राहत पाने के लिए शरीर के कुछ मेन प्वाइंट्स की मसाज करने से अत्यधिक फायदा होता है। तो आइए जानते है की किस बीमारी में शरीर के किन अंगों की मालिश अवश्य करनी चाहिए।

डिप्रैशन – डिप्रैशन से पूरी तरह बचने के लिए अपने पैर की किसी भी उंगली को ऊपर से कतई न दबाएं। इससे शरीर में स्ट्रैस हार्मोन का लेवल बहुत कम होता है और दिमाग शांत होता है। और तनाव भी घटता है।

माइग्रेन – माइग्रेन के रोगी को अचानक से आधे सिर में बहुत तेज दर्द होने लगता है जिसे सहना बहुत मुश्किल हो जाता है। ऐसे में जब भी दर्द हो तो हाथ की सभी उंगलियों के ऊपरी हिस्से की मसाज करें। इससे इन रोगियों को बहुत आराम मिलता है।

जुकाम – मौसम बदलने के साथ ही बहुत तेज सर्दी-जुकाम हो जाता है। ऐसे में जुकाम से राहत पाने के लिए पैर के अंगुठे के ऊपरी हिस्से की मालिश अवश्य करनी चाहिए।

शुक्राणुओं की कमी – पुरूषों के शरीर में शुक्राणुओं की गिनती पूरी तरह बढ़ाने के लिए कलाई के बीच में दूसरे हाथ के अंगुठे से अच्छी तरह दबाएं।

अस्थमा – अस्थमा के रोगी को अटैक आने पर सांस लेने में अत्यधिक तकलीफ होती है और इस वजह से कई बार उनकी जान भी जा सकती है। ऐसे में पैर के तलवों के थोड़ा ऊपरी हिस्से में हाथ के अंगुठे से जरूर दबाएं।