मेडिटेशन या ध्यान से दे अपने मस्तिष्क को आराम

हर व्यक्ति चाहता है कि उसका दिमाग बेहतर तरीके से काम करे। इसके लिए आप कई तरीकें भी अपनाते है । आखिर आपका दिमाग ही तो आपके पूरे शरीर को काम करने के लिए प्रेरित करता है। लेकिन अगर आपका दिमाग ही कमजोर हो तो आपकी पूरी कार्यप्रणाली की धीमी पड जाती है।

तो चलिए आज हम आपको ऐेसे कुछ अनोखे तरीके बताते हैं, जिसकी मदद से आपका दिमाग पहले से अधिक तेज काम करना शुरू कर देगा-

आपने देखा होगा कि जो लोग रचनात्मक होते हैं, उनका दुनिया को देखने का नजरिया न सिर्फ अलग होता है, बल्कि वह ऐसा कुछ कर जाते हैं, जिससे लोग उनकी तारीफें करते हुए नहीं थकते। दरअसल, जब आप कुछ पढते या रचनात्मक लिखते हैं तो यह एक स्ट्रेस बस्टर के रूप में काम करता है।

अगर आप अपने दिमाग को बेहतर बनाना चाहते हैं तो इसके लिए अपने कम प्रभावी हाथ का प्रयोग करना एक अच्छा आईडिया हो सकता है। मसलन, अगर आप दाहिने हाथ से लिखते हैं और तो अपने बाएं हाथ का उपयोग करें।

जब आप अपने कम प्रभावी हाथ का उपयोग करते हैं तो आपके मस्तिष्क के दोनों हिस्से सक्रिय हो जाते हैं जो आपको अधिक रचनात्मक बनाने में मदद करता है या बेहतर मेमोरी कार्य को ट्रिगर करता है।

यह तो आप जानते हैं कि आपका मस्तिष्क सोते समय भी काम करता है लेकिन क्या आप इस बात से वाकिफ हैं कि आपके शरीर के हर हिस्से की तरह मस्तिष्क को भी आराम की आवश्यकता होती है।

अपने मस्तिष्क को आराम देने के लिए आप एक समय में एक ही चीज पर ध्यान देने की कोशिश करें या मेडिटेशन या ध्यान से आपके मस्तिष्क को आराम करने में मदद मिल सकती है।

आप चाहें तो कम से कम 10-15 मिनट के लिए आंखें बंद करके एक मधुर वाद्य संगीत सुन सकते हैं। इससे भी आपका दिमाग काफी हद तक रिलैक्स होता है।