कोरोना संकट में व्हाइट हाउस से जरूरतमंदों को खाना पहुंचा रही मेलानिया ट्रंप

कोरोना संकट में दोपहर के खाने की जिम्मेदारी अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप ने अपने कंधो पर उठा रखी है। व्हाइट हाउस की तरफ से उन्होंने देश की राजधानी वॉशिंगटन डीसी में जरूरतमंद लोगों को मदद करने का आश्वासन दिया है। इसी के तहत मेलानिया ट्रंप ने पहली बार सार्वजनिक स्थान पर मास्क पहना और अपने हाथों से खाना पहुंचाया। बता दे अपने युवा कल्याण पहल Be Best के तहत मेलानिया दूसरी जगहों का दौरा करती रहती है।

मेलानिया अक्सर Be Best का प्रचार-प्रसार करने के लिए सामान्य तौर पर स्कूल, अस्पताल और अन्य जगहों पर जाती है। लेकिन कोरोना महामारी के चलते स्कूल बंद हो जाने और अस्पताल में भीड़ कम हो जाने के बाद वह व्हाइट हाउस के रसोईघर से लोगों की मदद कर रही है। पिछले हफ्ते उन्होंने कोलंबिया के अग्निशामकों और आपातकालीन मेडिकल सेवा कर्मियों से मुलाकात की थी। जिसकी जानकारी किसी को भी पहले नहीं दी गई थी, यह अकस्मात दौरा था।

अधिकारियों के मुताबिक मेलानिया वहां अपने साथ व्हाइट हाउस से तैयार खाना, बड़े झोले, दोबारा इस्तेमाल किए जाने वाले फेस मास्क, हैंड सैनिटाइजर लेकर पहुंची। साथ ही वहां मौजूद पुलिसकर्मियों से भी मिली। मेलानिया और उनके पति राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पड़ोसी देशों से रक्षा करने के लिए अपने जीवन को खतरे में डालने वाले अग्निशामकों, पुलिस कर्मियों, ईएमएस कर्मियों और अन्य दूसरे लोगों के साथ खड़े रहने का आश्वाशन दिया है।

यह भी पढ़े: राजस्थान के बाद अब दिल्ली से भी दूर होंगे सचिन पायलट, गहलोत रच रहे चक्रव्यूह
यह भी पढ़े: गोवा में शुरू हुआ कोरोना वैक्सीन का मानव परीक्षण, गोवा सीएम ने दी शुभकामनाएं