चीन के साथ सीमा पर शांति के लिए जारी रहेगी सैन्य और राजनयिक स्तर पर बातचीत- विदेश मंत्रालय

भारत और चीन के बीच सीमा तनाव कुछ कम होता दिखाई दे रहा है। इसी बीच विदेश मंत्रालय ने कहा है कि दोनों देशों के बीच सेना के पीछे हटने की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए आगे भी सैन्य और राजनयिक स्तर पर बातचीत जारी रहेंगी। मंत्रालय ने कहा कि हम बातचीत के जरिये सीमा पर अमन-चैन और मतभेदों के समाधान को लेकर आश्वस्त हैं। वही दूसरी तरफ भारत स्पष्ट कर चुका है कि एलएसी का सख्ती से पालन और सम्मान ही शांति का आधार है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि भारत क्षेत्रीय अखंडता और संप्रभुता सुनिश्चित रखने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने जानकारी दी कि चीन के विदेश मंत्री के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने एलएसी और गलवान घाटी में डिवेलपमेंट्स को लेकर भारतीय पक्ष से अवगत करा दिया था।

विदेश मंत्रालय ने बताया कि दोनों पक्ष इस बात पर सहमत हुए है कि ऐसी किसी घटना को रोकेने के लिए साथ मिलकर काम करने की आवश्यकता है। जिससे सीमा पर शांति और स्थिरता बनी रहे। दूसरी तरफ चीनी विदेश मंत्रालय ने भी कहा है कि दोनों देश तेजी से सैनिकों को हटाने पर सहमत हुए है।

यह भी पढ़े: वर्चुअल 2020 @GirlUp लीडरशिप समिट का हिस्सा बनेंगी एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा
यह भी पढ़े: नेपाल में भारत के न्यूज चैनलों के प्रसारण पर रोक, दुष्प्रचार करने का लगा है आरोप