Breaking News
Home / ज़रा हटके / महिलाओं की पहली पसंद बना ये सुरक्षा ऐप, 2 लाख से ज्यादा बार हुआ डाउनलोड

महिलाओं की पहली पसंद बना ये सुरक्षा ऐप, 2 लाख से ज्यादा बार हुआ डाउनलोड

आजकल भारत ही नहीं विदेश में भी महिलाओं के साथ छेड़छाड़ होना आमबात हो गई है. ऐसे में भारत समेत कई देश महिला छेड़खानी को रोकने के लिए कई ऐप भी चलाने लगे हैं जिनकी मदद से महिलाएं छेड़खानी का शिकार होने से बच सकें, लेकिन कई बार ये ऐप केवल ऐप की ही तरह होते हैं ऐन मौके पर यह काम नहीं आते. वहीं इन दिनों जापान में एक महिला सुरक्षा ऐप काफी चर्चा में बना हुआ है, जिसको 2 लाख 37 हजार महिलाएं डाउनलोड कर चुकी हैं. यह ऐप एक बार क्लिक करने पर तुरंत पुलिस को मैसेज चला जाता है.

2 लाख महिलाओं ने डाउनलोड किया एंटी ग्रॉपिंग ऐप

दरअसल जापान के टोक्यो में महिलाएं लंबे समय तक भीड़ भरी ट्रेनों में छेड़खानी का शिकार होती थी, लेकिन कुछ कर नहीं पाती थी. इससे निपटने के लिए टोक्यो पुलिस ने एंटी ग्रॉपिंग ऐप बनाया है, जिसे डिजी पुलिस ऐप नाम दिया गया है. इस ऐप के जरिए महिलाएं डिजी पुलिस की मदद ले सकती है, जो या तो तेज आवाज में मैसेज देता है- स्टॉप इट (इसे रोको) या मोबाइल की पूरी स्क्रीन पर SOS (इमरजेंसी कॉन्टेक्ट को सूचना) संदेश दिखाता है. इस संदेश में लिखा होता है- यहां एक मोलेस्टर (छेड़खानी करने वाला) है, कृपया मदद कीजिए. मुझे इससे समस्या है. इस मैसेज को पीड़िता आसपास मौजूद अन्य लोगों की मदद ले सकती है.

Loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *