अगले साल तक मुंबई का जल संकट कम हो गया, जलाशयों में 99.22 फीसदी भरा है पानी

मुंबई समेत महाराष्ट्र में पिछले दो दिनों से भारी बारिश हो रही है, जो मुंबईगढ़ के लिए शुभ रहा है।  मुंबई को पानी सप्लाई करने वाले जलाशयों में सोमवार सुबह तक 99.22 फीसदी पानी जमा हो चुका है। मुंबई बीएमसी के आपूर्ति विभाग ने कहा था कि भारी बारिश के कारण शाम तक जलाशयों में शत-प्रतिशत पानी जमा हो जाएगा।  जलाशयों के पूरी क्षमता से ओवरफ्लो होने से मुंबईगढ़ की पानी की चिंता अगले साल जुलाई तक दूर हो गई है।

बंगाल की खाड़ी में बने दबाव के चलते मुंबई समेत राज्य में बारिश की वापसी हो गई है। जलाशयों के जलग्रहण क्षेत्र में अच्छी बारिश हो रही है।  इसलिए सोमवार सुबह तक जलाशय अपनी पूरी क्षमता पर पहुंच चुके थे।  पिछले दो साल की तुलना में सोमवार को जलाशयों में पानी का भंडार अधिक है। पिछले साल इसी समय जलाशयों में 98.29 प्रतिशत और 2019 में 97.85 प्रतिशत जल भंडार था।

उल्लेखनीय है कि मुंबई को प्रतिदिन 3,850 मिलियन लीटर पानी की आपूर्ति की जाती है। 1 अक्टूबर को जलाशय में 14,47,363 मिलियन लीटर पानी का भंडार होना चाहिए ताकि पूरे साल बिना पानी की कटौती के मुंबई को पानी की आपूर्ति की जा सके।  सोमवार सुबह सभी जलाशयों में 14,36,126 करोड़ लीटर पानी का भंडार था।  मानसून बस कुछ ही दिन दूर है। इसलिए जलग्रहण क्षेत्र में भारी बारिश से महानगरपालिका के जल विभाग की चिंता दूर हो गई है।

यह भी पढ़ें: सप्ताह के पहले कारोबारी दिन में नुकसान के साथ हुई क्लोजिंग